सवाल देश की छवि का... 

सवाल देश की छवि का... 

Mar 01, 2020

 'चीफ़ मिनिस्टर के लिए मेरा एक ही सन्देश है कि वह राजधर्म का पालन करें,। 'राजधर्म'। राजा के लिए ,शासक के लिए प्रजा प्रजा में भेद नहीं हो सकता ,न जन्म के आधार पर न जाति के आधार पर,न सम्प्रदाय के आधार पर'। यह शिक्षा...

इस घर को आग लग गयी घर के चिराग़ से?

इस घर को आग लग गयी घर के चिराग़ से?

Feb 26, 2020

देश की राजधानी दिल्ली आख़िरकार अशांत हो ही गयी। दिल्ली के उत्तर-पूर्वी इलाक़े हिंसा की भेंट चढ़ गए। इस साम्प्रदायिक हिंसा में अब तक भारत माता के ही 13 सपूत अपने जानें गंवा चुके हैं। इनमें एक पुलिसकर्मी भी अपनी ड्यूटी निभाते हुए दंगाइयों के...

भारत धर्मनिरपेक्ष था, है और रहेगा...

भारत धर्मनिरपेक्ष था, है और रहेगा...

Feb 25, 2020

स्वयं को 'देश का नेता' बताने व जताने वाले चंद आपराधिक मानसिकता के सिरफिरों ने मानो देश में अशांति फैलाने का ठेका ले रखा हो। आए दिन कोई न कोई तथाकथित स्वयंभू नेता समाज को तोड़ने वाला कोई न कोई बयान देता है। उधर व्यवसायिक...

पहले अस्थाई मंदिर में विराजेंगे प्रभुराम

पहले अस्थाई मंदिर में विराजेंगे प्रभुराम

Feb 21, 2020

-अजय कुमार- जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का गठन होने के बाद से प्रभु श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण की ओर पहला कदम बढ़ाते हुए ट्रस्ट ने आम सहमति से रामलला को उनके स्थान से हटा कर अस्थाई मंदिर में विराजने का काम शुरू कर...

राजनीति की नई इबारत लिखने की ओर बिहार 

राजनीति की नई इबारत लिखने की ओर बिहार 

Feb 20, 2020

महात्मा बुध से लेकर महात्मा गाँधी जैसे महापुरुषों की कर्मस्थली रहा देश का प्राचीन समय का सबसे समृद्ध राज्य बिहार गत 15 वर्षों में हुए अनेक मूलभूत विकास कार्यों के बावजूद अभी भी देश के पिछड़े राज्यों में ही गिना जाता है। आज भी बिहार...

मिलावटख़ोरी के इस दौर में खाएं क्या तो पियें क्या ?

मिलावटख़ोरी के इस दौर में खाएं क्या तो पियें क्या ?

Feb 13, 2020

हमारा देश विशेषकर राजनैतिक,आर्थिक तथा सामाजिक क्षेत्र में इस समय संकट व अनिश्चितता के दौर से गुज़र रहा है इस का उल्लेख अनेक आलोचकों व संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञों द्वारा समय समय पर किया जाता है। परन्तु अत्याधिक आत्मविश्वास में डूबे सत्ता प्रतिष्ठानों की ओर...

अपने नौनिहाल को योग्य बनाइये धर्मोन्मादी नहीं

अपने नौनिहाल को योग्य बनाइये धर्मोन्मादी नहीं

Feb 05, 2020

इन दिनों पूरे देश में एक अजीब क़िस्म का उन्माद छाया हुआ दिखाई दे रहा है। जिन युवाओं पर अपने भविष्य को उज्जवल बनाने का ज़िम्मा है देश के वही 'कर्णधार' इस समय न केवल भ्रमित हैं बल्कि 'धर्मोन्माद' व तथाकथित राष्ट्रवाद के गढ़े गए...

'मार्ग दर्शकों ' की बदज़ुबानी की इन्तेहा ?

'मार्ग दर्शकों ' की बदज़ुबानी की इन्तेहा ?

Jan 30, 2020

कभी विश्व को मार्ग दर्शन देने जैसा स्वर्णिम अतीत रखने वाले हमारे देश में इन दिनों कथित 'मार्ग दर्शकों ' द्वारा ही देश व भारतीय समाज को विभाजित करने के सभी उपाय आज़माए जा रहे हैं। पूरे देश में किसी भी राज्य में किसी भी...

घोर अस्वच्छता के मध्य स्वच्छता के दावे ?

घोर अस्वच्छता के मध्य स्वच्छता के दावे ?

Jan 23, 2020

केंद्र ही नहीं बल्कि राज्य सरकारों द्वारा भी स्वच्छता अभियान को लेकर बड़े बड़े दावे किये जा रहे हैं। जनता के ख़ून पसीने की कमाई का टैक्स का क़ीमती पैसा विकास या स्वच्छता संबंधित कार्यों में कम परन्तु इनके विज्ञापनों में व सरकार की अपनी...

बैंकिंग खामियों का कौटिल्य शास्त्र हैं 'एनपीए एक लाइज बीमारी नहीं'

बैंकिंग खामियों का कौटिल्य शास्त्र हैं 'एनपीए एक लाइज बीमारी नहीं'

Jan 20, 2020

अर्थव्यस्था में बैंकिंग क्षेत्र का महत्वपूर्ण योगदान है। दूसरे शब्दों में सीधे और सरल तरीके से कहा जाय तो बैंक हमारी अर्थव्यस्था की रीढ़ हैं। अर्थव्यवस्था की खराब सेहत के लिए बैंकों की बड़ी भूमिका है। बैंकिंग सिस्टम के नकारेपन की वजह से अब तक...


Bulletin