भारत पाकिस्तान के बीच फ्लैग मीटिंग, संघर्ष विराम के उल्लंघन पर उठे सवाल

भारत पाकिस्तान के बीच फ्लैग मीटिंग, संघर्ष विराम के उल्लंघन पर उठे सवाल

भारत और पाकिस्तान के बीच बुधवार को सुचेतगढ़ सेक्टर की ऑक्टोई सीमा चौकी के नजदीक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर फ्लैग मीटिंग हुई जिसमें भारत ने पाकिस्तान की ओर से लगातार किए जा रहे संघर्ष विराम के उल्लंघन को लेकर कड़ा विरोध जताया। पाकिस्तान लगातार संघर्ष विराम कर रहा इसके कारण सीमा के पास लोगों का जीना मुश्किल हो गया है।

आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि सुचेतगढ़ सेक्टर के ऑक्टोई सीमा चौकी की जीरो लाइन पर सीमा सुरक्षा बल(बीएसएफ) और पाक रेंजरों के बीच आज शाम सेक्टर स्तरीय एक फ्लैग मीटिग आयोजित की गई। इस बैठक में बीएसएफ की ओर से फ्रंटियर मुख्यालय के उपमहानिरीक्षक(डीआईजी) पी एस धीमान तथा आठ अन्य अधिकारियों ने भाग लिया जबकि पाकिस्तान की ओर से ब्रिगेडियर मोहम्मद अमजद हुसैन और छह अन्य अधिकारियों ने भाग लिया।

फ्लैग मीटिंग में भारत ने पाकिस्तान की ओर से लगातार किए जा रहे संघर्ष विराम के उल्लंघन को लेकर कड़ा विरोध जताया। बैठक में दोनों देशों की ओर से सीमा पर शांति एवं सौहार्द बनाए रखने का निर्णय लिया गया है। इससे पहले पाकिस्तान ने बिना किसी उकसावे के संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए जम्मू-कश्मीर में सांबा जिले के रामगढ़ सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास मंगलवार देर रात से गोलीबारी की जिसमें सीमा सुरक्षा बल(बीएसएफ) के चार जवान शहीद हो गये जबकि पांच अन्य घायल हो गये। भारत और पाकिस्तान इन मुद्दों पर आपस में मिलकर हल निकालना चाहिए।


Share
Bulletin