राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से 14 अगस्त को अखंड भारत दिवस का आह्वान

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से 14 अगस्त को अखंड भारत दिवस का आह्वान

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और उसके अनुशांगिक संगठनों की तरफ से स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पूर्व 14 अगस्त को अखंड भारत दिवस मनाया जाएगा। हालांकि कुछ स्थानों पर ऐसे प्रोग्राम 15 अगस्त को भी होंगे। संघ प्रति वर्ष ऐसे आयोजन करता है। इस दिन देश भर में लगने वाली शाखाओं में जहां संघ के कार्यकर्ता अखंड भारत का संकल्प लेंगे, वहीं विभिन्न इकाइयों की तरफ से आयोजित किए गए कार्यक्रम में विशेषज्ञ वक्ताओं को बुलाकर अखंड भारत के सपने को साकार करने पर चर्चा की जाएगी। संघ के विचारक एचवी शेषाद्रि की किताब The Tragic Story of Partition में अखण्ड भारत के विचार पर काफी जोर दिया गया है। संघ का मानना है कि 15 अगस्त को हमें आजादी अवश्य मिली, लेकिन हमें मातृभूमि के विभाजन का गहरा घाव भी सहना पड़ा है।

संघ कर्मियों और विचारधारा का समर्थन करने वालों को आमंत्रण

संघ का यह भी कहना है कि अखंडता का मार्ग सांस्कृतिक है, न कि सैन्य कार्रवाई। भारत की अखंडता का आधार भूगोल से अधिक संस्कृति और इतिहास है। दिल्ली में संघ की कई इकाइयों की तरफ से ऐसे कार्यक्रम आयोजन करने की तैयारियां चल रहीं हैं। संघ कर्मियों और विचारधारा का समर्थन करने वालों को आमंत्रण पत्र भी भेजे जा रहे हैं। आरएसएस की जनकपुरी नगर इकाई की तरफ से एमसीडी सामुदायिक भवन में अखंड भारत संकल्प और भारत माता पूजन कार्यक्रम आयोजित किया गया है। आमंत्रण पत्र में कहा गया है कि हर भारतीय नागरिक का एक ही स्वर्णिम स्वप्न अखंड भारत का है। तो आइए हम सब फिर एक बार मिलकर अखंड भारत का संकल्प लेते हैं।


Share
Bulletin