पहली ही बारिश में करोड़ो की नहर ढही

पहली ही बारिश में करोड़ो की नहर ढही

अधिकारी कर्मचारी उनके सपनो पर पलीता लगाते हुये कमीशन के चक्कर में धड़ल्ले से ठेकेदारों और जिम्मेदारों के संरक्षण में गुड़वत्ताहिन निर्माण कार्य करवाया जा रहा है ओर उन्हें किसी का डर नहीं क्योंकि कमीशन का पैसा सभी आपस में बंदरबांट करते हुये अपनी तिजोरी भर रहे है।

ऐसा ही मामला सिवनी जिले के  केवलारी तहसील का है जहां पर वाय तट नहर से जुड़ा हुआ है जहां किसानों के खेतो में पानी के लिए नहर निमार्ण  कराया जा रहा था ताकि किसानों को पानी मिल सके  इसी को देखते हुये शासन की तरफ से मार्च 2018 से टेल वितरक चेन क्रमांक 0 से 400/ यानी ग्राम सुझरी से ग्राम बक्शी तक नहर का कंक्रीटकरण  कर निमार्ण  का कार्य जारी किया गया जिसकी कुल लम्बाई 22.38 किमी.एक कार्य की अनुमानित लगत लगभग 5.38 करोड़ है इस नहर की सिंचाई क्षमता 2427 हेक्टयर की है।  

आपको बता दें की उक्त कार्य का ठेका पिंडरई जिला मंडला निवासी जेनुल आबेदीन को दिया गया है जिसके द्वारा धड़ल्ले से गुडवत्ताहिन निर्माण कार्य किया जा रहा है ऐसा हम इसलिये कह रहे है क्योंकि निर्माण कार्य के अभी छः महीने भी नहीं हुये की एक ही बरिश में नहर का कंक्रीट पानी के साथ ढ़ह गया और किसानों के सपने चूर चूर हो गये। 

कार्यपालन यंत्री प्रवीण चंद महाजन का कहना हैं  नहर निर्माण मामले जाँच की जायेगी एवं धराशाही हो चुके निर्माण कार्य को फिर से निर्माण कराया जायेगा वहीं क्षेत्रीय विधायक रजनीश सिंह का कहना हैं की बार सदन में भी इस मामले में बात रखी गई लेकिन कोई कार्यवाही नही की गई  प्रशासन बेलगाम हैं कमिशन खोरी के चक्कर में घटिया निर्माण हो रहा हैंl

 


Share
Bulletin