1 जून से आंदोलन की रणनीति की तैयारी, नही जायेगी सब्जी और दूध बाहर

1 जून से आंदोलन की रणनीति की तैयारी, नही जायेगी सब्जी और दूध बाहर

1 जून से 10 जून तक किसान आंदोलन की पूर्ण तैयारी संघटनो ने की हैं वहीं किसानो ने आंदोलन संगठन को सहयोग प्रदान कर रहें हैं रायसेन जिले में तीन किसान संगठन पूर्णतः आंदोलन की तैयारी कर चुके हैं भारतीय किसान मजदूर संघ किसान यूनियन, किसान जाग्रति संघ, और भारतीय राष्ट्रीय मजदूर संघ के पदाधिकारियों ने किसानों से घर घर जाकर संपर्क किया हैं।

किसान फिर सरकार के खिलाफ उग्र

गौरतलव हैं कि वारदाने की समस्या को लेकर रायसेन जिले के बरेली में 7 जून 2012 को किसान की पुलिस की गोली से मौत हुई  थी जिस आंदोलन को भारतीय जनता पार्टी के किसान नेता शिवकुमार शर्मा कक्का जी के नेतृत्व में हो रहा था फिर 7 साल बाद किसान बीजेपी से परेशान किसान फिर सरकार के खिलाफ उग्र हो रहें हैं किसान अपने गावँ से दूध सब्जी बाजारों में नही ले जाएगा किसानों ने सहयोग की बात की हैं।

हम किसान के हक के लिए लड़ते रहेंगे

जहाँ मप्र में किसान आंदोलन ने सरकार और प्रशासन की नींद उड़ा रखी हैं बहीं किसान संगठन अपने ताकत आंदोलन में पूरी झोकने का मन बना चुके हैं संघठनो का कहना हैं कि हम किसान के हक के लिए लड़ते रहेंगे और शांति से आंदोलन करेंगे गावँ गावँ में दूध सब्जी को बेचेंगे लेकिन शहरों में नही आने देंगे। जिले के सभी किसान संगठन   हैं।
आंदोलन का केंद्र उदयपुरा

किसान आंदोलन को लेकर अधिकारियो और पुलिस ने पुख्ता इंतेजमात किये हैं वहीं प्रशासन इसे जाहिर नही करना चाहता रायसेन जिले में आंदोलन का केंद्र उदयपुरा रहेगा वहीं जिले के बरेली, सिलवानी, बेगमगंज, मंडीदीप, ओबेदुल्लागंज, सांची, गैरतगंज, सुल्तानपुर सभी जगह प्रशासन से आंदोलन से निपटने की तैयारी कर ली हैं।

 


Share
Bulletin