अंतर्राज्यीय गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार, गैस कटर से करते थे चोरी!

अंतर्राज्यीय गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार, गैस कटर से करते थे चोरी!


बिजुरी पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है बैंको और एटीएम में गैस कटर की मदद से चोरी करने वाले शातिर अंतर्राज्यीय गिरोह के तीन सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। यह गिरोह गैस कटर से बैंक लॉकर और एटीएम को काट कर चोरी करता था। इनके पास से दो देशी कट्टा, 10 जिंदा कारतूस, एक क्रेटा कार, 42 हजार रुपये नगद, दो मोबाईल फोन जप्त किए गए है।

आरोपियों ने इन जगहों पर की सबसे ज्यादा चोरी
आरोपियों ने मध्यप्रदेश के अनूपपुर, डिंडौरी, शहडोल, गुना में अपराध करने के अलावा दिल्ली, उड़ीसा और तमिलनाडु राज्य में भी अपराध करना स्वीकार किया है। आरोपी सादिक पर तमिलनाडू में एक बैंक से 37 किलो सोना चोरी करने का आरोप है। पकड़े गये आरोपियों के पास से दिल्ली से चोरी की हुई एक कार जप्त की गयी है। 

बैंको की तिजोरी को काटा गैस कटर से 
जानकारी जुटाने पर पता चला कि सलीम ने 2017 में दिल्ली से कार चुराई थी। पूछताछ में पता चला कि आरोपियों ने 15-16 दिसम्बर 2017 की रात पल्लेहार जिला अंगुल (उड़ीसा) में काॅपरेटिव बैंक की तिजोरी काटकर 8,00,000 रूपये लूटे थे। 20-21 जनवरी 2018 की रात कस्बा बड़खेरा हाट जिला गुना म0प्र0 में एसबीआई बैंक की तिजोरी काटने का प्रयास किया फिर 08-09 मार्च 2018 की रात सादिक खान, फईम खान, मो0 सलीम, टिन्नू उर्फ लईकूजमा, अकमल खान, आरिफ उर्फ रफीक खान, बाबू उर्फ कन्हैया मुसलमान तथा गुड्डू खान के साथ मिलकर डिंडौरी जिले के करंजिया में पंजाब नेशनल बैंक का एटीएम काटकर 2,56,600 रूपये की डकैती की। 11 मार्च 2018 को शहडोल जिले के गोहपारु में सेन्ट्रल बैंक की तिजोरी काटने का प्रयास किया। सीधी जिले के मड़वास में ग्रामीण बैंक में तिजोरी काटकर 10,00,000 रूपये की लूटे थे।

आरोपियों के पास से जब्त हुए जिंदा कारतूस
आरोपी सादिक, फईम खान एवं मोहम्मद सलीम से करंजिया एटीएम से लूटे गये 42 हजार रुपये बरामद किए गए है। मड़वास ग्रामीण बैंक डकैती में इस्तेमाल किये गये गैस कटर में लगने वाले आॅक्सीजन सिलेण्डर को सब्बल छत्तीसगढ़, मनेन्द्रगढ़ के जंगल से जप्त किया गया है। सादिक खान के पास एक 315 बोर का कट्टा एवं 04 315 बोर के जिंदा कारतूस तथा एक सेमसंग कम्पनी का मोबाईल जप्त किया गया। दूसरे व्यक्ति फईम खान के पास से एक 315 बोर का कट्टा एवं 04 315 बोर के जिंदा कारतूस जप्त किये गया। कार लेकर भागने के प्रयास में पकड़े गये सलीम की तलाशी लिये जाने पर उसके पास से दो 315 बोर के जिंदा कारतूस और एक तलवार जप्त की गई।

आरोपियों का 2011 से लेकर 2018 तक का ये रहा रिकॉर्ड
आरोपियों ने वर्ष 2011 में चुरगलिया उत्तराखंड बैंक से 50,000 रूपये चोरी करना, वर्ष 2015 में तमिलनाडु के कृष्णागिरि जिले केे गुरूवापल्ली से बैंक आफ बड़ौदा का लाॅकर काटकर 27 किलो सोना चोरी करना स्वीकार किया है। वर्ष 2017 में गुजरात के अंकलेश्वर के बड़ोदा ग्रामीण बैंक, वर्ष नवम्बर 2017 में महाराष्ट्र के समुद्रपुर जिला नागपुर के एसबीआई बैंक, जनवरी 2018 में उत्तराखंड के हल्दवानी के पास बैंक आफ बड़ोदा से तथा दिसम्बर 2017 में उड़ीसा के नयागढ़ जिले के दसपल्ला के बैंक आॅफ इण्डिया की तिजोरी काटना तथा मार्च 2018 में अम्बिकापुर के बरगॅंवा में भी बैक की तिजोरी काटने की घटनायें करना स्वीकार किया है। इस शातिर गिरोह को पकड़ने में बिजुरी टीआई महेंद्र सिंह चौहान और उनकी टीम ने कड़ी मेहनत की है।

अनूपपुर पुलिस अधीक्षक का क्या है कहना
वहीं इस मामले पर अनूपपुर पुलिस अधीक्षक सुनिल कुमार जैन का कहना है कि बैंक और एटीएम में चोरी करने वाले सादिक खान, फईम खान और मोहम्मद सलीम को गिरफ्तार किया गया है। तीनो जिला बदायूं उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। गिरोह के दो सदस्य अभी फरार है। इनके खिलाफ आईपीसी की धारा 399, 402 और 25/27 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। 


Share
Bulletin