भगवान महावीर जयंती पर जैन श्रद्धालुओं ने किया रक्तदान

भगवान महावीर जयंती पर जैन श्रद्धालुओं ने किया रक्तदान

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में भगवान महावीर की जयंती धूमधाम से मनाई जा रही है। आज सुबह करीब 7 बजे भगवान महावीर की शोभायात्रा निकाल कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई। शोभायात्रा मालवीय रोड से निकलकर सुबह करीब दस बजे दादाबाड़ी स्थित जैन मंदिर पहुंची। यहां पर शोभा यात्रा का भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान प्रदेश के मंत्री बृजमोहन अग्रवाल भी मौजूद रहे। कार्यक्रम में 4 हजार से ज्यादा जैनी श्रद्धालु शामिल थे। 

इस मौके पर जैनी श्रद्धालुओं ने रक्तदान शिविर का आयोजन किया। कार्यक्रम मानव समाज को अंधकार से प्रकाश की ओर लाने वाले महापुरुष भगवान महावीर का जन्म ईसा से 599 वर्ष पूर्व चैत्र मास के शुक्ल पक्ष में त्रयोदशी तिथि को बिहार में लिच्छिवी वंश के महाराज श्री सिद्धार्थ और माता त्रिशिला देवी के यहां हुआ था। जिस कारण इस दिन जैन श्रद्धालु इस पावन दिवस को महावीर जयंती के रूप में पंरपरागत तरीके से हर्षोल्लास और श्रद्धाभक्ति पूर्वक मनाते हैं।

बताया गया कि बचपन में भगवान महावीर का नाम वर्धमान था। जैन धर्मियों का मानना कि वर्धमान ने कठोर तप द्वारा अपनी समस्त इंद्रियों पर विजय प्राप्त कर जिन अर्थात विजेता कहलाए। उनका यह कठिन तप पराक्रम के सामान माना गया। जिस कारण उनको महावीर कहा गया और उनके अनुयायी जैन कहलाए। आयोजक मंडल के सदस्य अनुव्रत खोटर के मुताबिक पिछले पांच सालों से महावीर जयंती के मौके पर प्रसाद वितरण किया जा रहा है। 


Share
Bulletin