राम मंदिर निर्माण को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ संतों ने भरी हुंकार

राम मंदिर निर्माण को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ संतों ने भरी हुंकार

अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण को लेकर संतों ने एक बार फिर केंद्र सरकार के खिलाफ हुंकार भरी है। इस बार दिगंबर अखाड़े के प्रमुख महंत सुरेश दास ने इस मामले पर सरकार को अल्‍टीमेटम दिया है। उन्होंने कहा है कि सरकार राम मंदिर निर्माण का फॉर्मूला 25 जनवरी तक तैयार कर दे। अगर ऐसा  नहीं किया जाता है तो अब इसके लिए आंदोलन होगा।

महंत सुरेश दास ने कहा है कि प्रयागराज में लगने वाले कुंभ में ही साधु-संत राम मंदिर निर्माण की तारीख निर्धारित करेंगे। उन्‍होंने कहा है कि अगर अदालत और सरकार कुछ नहीं कर पा रही है तो जनता की अदालत के माध्यम से राम मंदिर का निर्माण होगा। उल्लेखनीय है कि राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद को लेकर दायर की गई अपीलों पर शुक्रवार को शीर्ष अदालत ने सुनवाई 10 जनवरी तक के लिए स्थगित कर दी थी।

शीर्ष अदालत ने कहा था कि इस मामले के लिए तीन सदस्यों वाली एक नई बेंच का गठन किया जाएगा, जो यह निर्णय करेगी कि अयोध्‍या विवाद की सुनवाई रोजाना होना चाहिए या नहीं। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई इस नई बेंच का गठन करने वाले हैं। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने एक वकील की तरफ से दायर की गई उस याचिका को भी रद्द कर दिया है, जिसमें अयोध्‍या विवाद की रोजाना और त्वरित सुनवाई की मांग की गई थी।


Share
Bulletin