जम्मू कैंप से लापता जवान को कांकेर क्राइम ब्रांच की टीम ने पंद्रह दिन बाद खोज निकाला

जम्मू कैंप से लापता जवान को कांकेर क्राइम ब्रांच की टीम ने पंद्रह दिन बाद खोज निकाला

जवान जम्मू से भाग कर जगदलपुर के एक लॉज में छिपा हुआ था वह 1 जुलाई को होटल आनंद के एक कमरे में मिला यहां उसके एटीएम कार्ड से रकम निकालने के बाद पुलिस सक्रिय हो गई जिले की क्राइम ब्रांच भी उसकी तलाश में लग गई रविवार को उसे पकड़ कांकेर लाया गया जहां उसे परिजनों के हवाले कर दिया गया है एसडीओपी आकाश मरकाम ने बताया कि सेना में इंटेलिजेंस का जवान राकेश पटेल 24 वर्ष पिता गिरवर निवासी ग्राम नवागांव भावगीर 17 जून को जम्मू के एक कैंप से अचानक लापता हो गया था।

वह अपने साथी को बाल कटाने की बात कह कर निकला था जब उसका मोबाइल बंद हुआ तो परिजनों को शंका होने लगी इधर सेना के अधिकारी भी उसकी तलाश में जुटे थे 27 जून को जवान के परिजनों ने कांकेर थाना में गुमशुदगी की शिकायत कराई थी जवान 21 जून से जगदलपुर में अलग अलग समय में होटल अप्सरा, गौरव व आनंद में रुकता रहा।

जवान से जब पूछताछ की गई तो उसने कहा कि वह नौकरी नहीं करना चाहता है लेकिन नौकरी क्यों नहीं करना चाह रहा है इसका कारण नहीं बताया न ही सेना में किसी तरह के प्रताड़ना की जानकारी दी परिजनों ने कहा उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है जवान राकेश चार साल से आर्मी में सेवा दे रहा है इससे पहले वह झारखंड और पुणे में काम कर चुका है। 


Share
Bulletin