शराबी पति ने गवाई अपनी जान, पत्नी का जीवन सलाखों के नाम

शराबी पति ने गवाई अपनी जान, पत्नी का जीवन सलाखों के नाम

घटना ग्राम जरौंधा की है जहां डबरीपारा निवासी सावित्री और नंदकुमार रजक के वैवाहिक जीवन का सुख शराब के सेवन से होने वाले झगड़ो की भेंट चढ़ गया था और अंजाम यह हुआ कि नंदकुमार की हत्या जैसा अपराध सावित्री के हाथों हो गया पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार नंदकुमार अत्यधिक शराब पीने का आदि था और शराब की वजह से आये दिन घर मे झगड़े होते थे जिससे सावित्री अपने पड़ोस में रहने वाले मामा के घर चली जाती थी और मान मनौवल के बाद घर भी आ जाती थी।

घटना दिनांक को भी नंदकुमार ने शराब पीकर सावित्री से विवाद किया तो सावित्री अपने मामा के घर चली गयी फिर उसके ममेरे भाइयो ने नंदकुमार को समझाने के बाद घर भेज दिया रात मे सावित्री की बेटी ने अपने  मामा को फोन कर बताया कि उसके पिता घर मे नही है तो खोजबीन करने पर वह तालाब के पास मिल गया जिसे समझा कर घर जाने के लिए कहा गया किंतु सुबह उसकी लाश रामेश्वर जो सावित्री का ममेरा भाई है क़े घर के पास  मिली।

जांच पड़ताल और पूछताछ में यह बात सामने आई कि रात्रि में नंदकुमार का, सावित्री, रामेश्वर, और सुरेश के साथ झूम झटकी हुई जिससे नंदकुमार के गले मे रखा कपड़ा कस गया औए दम घुटने से उसकी मौत हो गई शव का पंचनामा कर पुलिस ने पोस्टमॉर्टेम के लिए भेज दिया और सावित्री, रामेश्वर उर्फ टकेश्वर और सुरेश रजक को नंद कुमार की हत्या के आरोप IPC की धारा 302 और 34 के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया और इस तरह शराब ने एक परिवार को फिर तबाह कर दिया।

 


Share
Bulletin