सीएम हैल्पलाईन की साढ़े 6 हजार शिकायतें बंद करना पड़ा महंगा

सीएम हैल्पलाईन की साढ़े 6 हजार शिकायतें बंद करना पड़ा महंगा

ग्वालियर। सीएम हेल्पलाइन में जबरन समस्या को बंद करना ग्वालियर के जीवाजी विश्वविद्यालय के अधिकारियों को अब महंगा पड़ रहा है, इन तमाम मामलों की भोपाल में फिर से समीक्षा होनी है। वहीं अब जेयू के कर्मचारी शिकायत करने वालों को फोन लगाकर बंद करने का आग्रह कर रहे हैं, तो वहीं अटपटे जवाब सुनने को मिल रहे हैं।

दरअसल जीवाजी विश्वविद्यालय में पिछले तीन सालों में साढे़ ग्यारह हजार से अधिक शिकायतें सीएम हेल्पलाइन में दर्ज की गईं थी। इन शिकायतों में से 6657 को जेयू के अधिकारियों ने जबरन बंद कर दिया था।

पिछले दिनों जेयू के अधिकारियों को इसी मसले पर भोपाल तलब किया गया था, पूछा गया था कि इतनी शिकायतें एक तरफा बंद कैसे की गर्ई। जेयू को इस मामले में 2 फरवरी को फिर से जवाब पेश करना है। इस दौरान उसे या तो आवेदक से शिकायत बंद करानी है, या फिर उस शिकायत को फिर से खुलवाना है। इसी क्रम में अब जेयू के अधिकारी अपने कर्मचारियों से शिकायतकर्ताओं को कॉल लगा रहे हैं। वहीं कुलपति का कहना है कि एक-एक छात्रों ने 60 से 80 शिकायतें लगा दी है। जिसके कारण सीएम हेल्पलाइन के नंबर बढ़ गए है।


Share
Bulletin