अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो राम वन गमन पथ का भव्य निर्माण किया जाएगा : कमलनाथ

अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो राम वन गमन पथ का भव्य निर्माण किया जाएगा : कमलनाथ

मध्य प्रदेश में इसी साल के अंत में विधान सभा चुनाव होने हैं, पिछले 15 सालों से मध्यप्रदेश में सत्ता से दूर रही कांग्रेस ने इस बार शिवराज सिंह को हारने के लिए भाजपा का ही हथियार का इस्तेमाल करने की योजना बनाई है, मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने राम वन गमन पथ के निर्माण का ऐलान किया है। कांग्रेस का मुद्दा छिनने के लिए बीजेपी पंचायत स्तर पर गौशालाएं खोलने की घोषणा पहले ही कर चुकी है।

बीजेपी राम के नाम पर पहले ही काफी सियासत खेल चुकी है, जिसमे अयोध्या राम मंदिर का मुद्दा सबसे प्रमुख है अब कांग्रेस ने भी बीजेपी को उसी की जबान में जवाब देने का फैसला किया है। 21 सितम्बर से कांग्रेस मध्य प्रदेश में राम वन गमन यात्रा निकाल रही है, इस यात्रा के बारे में बोलते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है कि अगर कांग्रेस मध्य प्रदेश में सत्ता में आती है तो राम वन गमन पथ का भव्य निर्माण किया जाएगा। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार श्रीराम अपने 14 साल के वनवास के दौरान मध्य प्रदेश के जंगलों से गुजरे थे संस्कृति विभाग का मानना है कि भगवान राम अपने वनवास के दौरान साढ़े ग्यारह साल चित्रकूट में रहे थे इसके बाद सतना, पन्ना, शहडोल, जबलपुर, विदिशा के वन क्षेत्रों से होकर दंडकारण्य चले गये थे।

बता दें कि शिवराज सिंह ने भी 2007 में राम वन गमन पथ को विकसित करने का ऐलान किया था सरकार ने मार्ग की पहचान करने पर ही लगभग तीन करोड़ रुपए खर्च कर दिए थे। मार्ग के विकास की योजना कुल 33 करोड़ रुपए की बनाई गई थी। लेकिन इस घोषणा के बाद 2 चुनाव शिवराज मुख्यमंत्री बन चुके हैं, लेकिन राम का रास्ता वैसा ही है, अब देखते हैं कि क्या कांग्रेस राम के रस्ते पर चलते हुए मध्य प्रदेश का तख़्त हासिल कर पाती है या नहीं।


Share
Bulletin