प्रदेश में छाया जल संकट, नर्मदा नदी पर बने बरगी बाँध का जल स्तर घटा

प्रदेश में छाया जल संकट, नर्मदा नदी पर बने बरगी बाँध का जल स्तर घटा

जबलपुर प्रदेश में बेहद कम बारिश होने की वजह से आने वाले दिनों में भारी जल संकट छा सकता है। नर्मदा नदी के ऊपर बने सबसे बड़े बांध बरगी बांध का जलस्तर भी लगातार कम हो रहा है। जबलपुर के ऊपरी क्षेत्रों मंडला, डिंडोरी, अनूपपुर और अमरकंटक में बारिश कम होने की वजह से बरगी बांध में पानी कम भर रहा है जिस वजह से बरगी बांध का जलस्तर ऊपर नहीं उठ पा रहा है।


बरगी बांध में 31 जुलाई तक जलस्तर 417 मीटर के ऊपर होना चाहिए लेकिन अभी तक बांध में महज 415 मीटर तक पानी आया है। इस कमी की वजह से नेहरों के द्वारा छोड़े जाने वाले पानी पर असर पड़ सकता है। विशेषज्ञों का मानना है कि बरगी बांध में पानी कम होने पर नेहरों से छोड़ा जाने वाला पानी रोका जा सकता है। जिससे न केवल जबलपुर बल्कि रीवा और नरसिंहपुर जिलों के खेतों में पानी नहीं पहुंच पाएगा और ऐसे में खेती को बड़ा नुकसान उठाना पड़ेगा। 

बारिश न होने से बेहद कम हो गया जलस्तर 
विशेषज्ञों का मानना है कि ऊपरी क्षेत्रों में बारिश होना जरूरी है लेकिन बीते 96 घंटों में बारिश ना होने की वजह से बरगी बांध का जलस्तर बेहद कम हो गया है। बरगी बांध के घटते जलस्तर की वजह से बिजली का उत्पादन करने वाली टरबाइन में से सिर्फ एक ही काम कर पा रही है। ऐसे में अब उम्मीद यही की जा रही है कि अगस्त के पहले सप्ताह में यदि बारिश होती है तभी बरगी बांध का जलस्तर सामान्य हो पाएगा अन्यथा आने वाले दिनों में प्रदेश को जल संकट का सामना करना पड़ सकता है। खास तौर पर किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। बरगी बांध का अधिकतम जलस्तर 422.76 मीटर है। इस जल स्तर तक पहुंच पाने के लिए अच्छी बारिश बेहद जरूरी है। फिलहाल सभी उम्मीद यही कर रहे हैं कि अगस्त माह में अच्छी बारिश होगी जिससे खेती के साथ-साथ बरगी बांध भी भर जाएगा।


Share
Bulletin