आरटीआई कार्यकर्ता पर हुए हमले के मामले में हाईकोर्ट ने नोटिस किया जारी

आरटीआई कार्यकर्ता पर हुए हमले के मामले में हाईकोर्ट ने नोटिस किया जारी

निशा मसीह : आरटीआई कार्यकर्ता रमेश अग्रवाल ने एक बार फिर से अपने उपर हुए जानलेवा हमले के मामले में हाईकोर्ट द्वारा जारी नोटिस पर कहा है कि उनकी अपील को हाईकोर्ट ने स्वीकार करते हुए हमला करने वाले लोगों को फिर से नोटिस जारी करके 15 सप्ताह के भीतर उपस्थित होनें को कहा है इसकी जानकारी देते हुए आरटीआई कार्यकर्ता रमेश अग्रवाल ने बताया कि उन्हें भरोसा है कि इस बार उनके साथ न्याय होगा। 

बीते 5 साल पहले रमेश अग्रवाल के उपर उनके कार्यालय में घुसकर दो अज्ञात लोगों ने गोली मारकर जान लेने का प्रयास किया था और इस मामले में पुलिस ने 6 आरोपियों को अलग-अलग जगह से गिरफ्तार भी किया था लेकिन न्यायालय से सभी को बरी कर दिया गया था और इस मामले में रमेश अग्रवाल के उपर भी यह सवाल उठे थे कि उन्होंने गोली चलाने वाले की पहचान नही की थी। आज इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि उस वक्त परिस्थितियां अलग थी और वे काफी दबाव में थे वे कहते हैं कि इस मामले में पुलिस की कार्रवाई से वे कभी संतुष्ट नही हुए थे और रिवाल्वर से उन्हें गोली मारी गई थी उसे आज तक जब्त तक नही किया गया है।

साथ ही साथ कई चीजों का फायदा उठाते हुए गिरफ्तार अपराधी बरी होनें में कामयाब हो गए चूंकि पुलिस की जांच में खामियां होनें का लाभ उन्हें मिला है। वे कहते हैं कि इस पूरे मामले को लेकर वे हाईकोर्ट गए थे जहां उनकी अपील पर फिर से सुनवाई होनें का असार है और उन्हें इंसाफ मिलेगा। 


Share
Bulletin