मुंगेलीः दो दोस्तों ने मिलकर कर दी अपने तीसरे दोस्त की हत्या, मामला पुरानी रंजिश का

मुंगेलीः दो दोस्तों ने मिलकर कर दी अपने तीसरे दोस्त की हत्या, मामला पुरानी रंजिश का

रोहित कश्यप - तीन दोस्तों ने  पहले जमकर शराब पी, फिर पुरानी रंजिश को लेकर दो युवकों ने मिलकर एक की हत्या कर दी।  मामले की विवेचना कर रही पुलिस भी उस वक्त चौक गयीं जब पता चला कि मृतक युवक का हमदर्द बनने वाले गांव के ही दो अन्य युवकों ने घटना को अंजाम दिया है। मामला सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के जगता कापा गांव का है, जहां के निवासी नीतेश साहू 3 सितंबर से गायब था। काफी खोजबीन करने के बाद परिजनों ने 5 सितंबर को सिटी कोतवाली पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसके दूसरे दिन यानी 6 सितंबर को जिले के पथरिया थाना क्षेत्र के खैरी गांव में आगर नदी पर बने एनीकट में  एक अज्ञात युवक की तैरती हुई लाश मिली थी। जिसकी शिनाख्त सिटी कोतवाली में गुम इंसान कायम नीतेश साहू के रूप में की गई।

शराब पीकर वाद विवाद के बढ़ जाने पर घटना को दिया गया अंजाम

मामले की जांच करने के लिए एसपी चैन दास टंडन ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश्वर चंदेल एवं एसडीओपी  तेजराम पटेल के मार्गदर्शन में एक टीम गठित की थी। जांच टीम ने लगातार संदेहियों से पूछताछ की। इस दौरान आरोपी ललित कारके व महेंद्र कर्माकर से पुलिस ने कड़ाई से जब पूछताछ की तो आरोपियों ने गुनाह कबूल कर लिया। पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि मृतक नीतेश से उनकी पुरानी रंजिश थी। 3 सितंबर को मृतक नीतेश के साथ गांव के सांड को भगाने के बाद 11 बजे तक तीनों ने मिलकर जमकर शराब पी। इस दौरान दोनों आरोपियों के बीच वाद विवाद होने लगा। वाद विवाद इतना बढ़ा कि एक आरोपी ललित कारके ने नीतेश के सिर पर लाठी से हमला कर दिया। इसके बाद दूसरे आरोपी महेंद्र कर्माकर  जो की अपनी पेंट में जिसने बेल्ट की जगह रस्सी बांधा था, उसी रस्सी से दोनों ने मिलकर नीतेश का गला घोट कर उसे मौत के घाट उतार दिया। एडिशनल एसपी कमलेश्वर चंदेल ने बताया कि हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद आरोपियों ने शव को छिपाने के लिए नदी में फेंक दिया था। वहीं घटना में प्रयुक्त लाठी एवं रस्सी को पुलिस ने जब्त कर लिया है। पुलिस के बताए अनुसार मृतक के मोबाइल को भी आरोपियों ने जला दिया था। इसके बाद भी साईबर सेल ने मामले को सुलझाने में काफी मदद की।  


Share
Bulletin