कमलनाथ सरकार में निगम मंडलों में की गयी नियुक्तियां की गई निरस्त

कमलनाथ सरकार में निगम मंडलों में की गयी नियुक्तियां की गई निरस्त

भोपाल: प्रदेश में शिवराज सरकार बनने के बाद बदले की राजनीती के तहत भाजपा कार्यकर्ताओं से मारपीट करने वाली राजगढ़ कलेक्टर निधि निवेदिता और एसडीएम प्रिया वर्मा को उनके पदों से हटा दिया गया है। पूर्व मंत्री राजेन्द्र शुक्ला से विवाद के वजह से चर्चा में रहे रीवा नगर निगम कमिश्नर सभाजीत यादव का भी ट्रांसफर कर दिया गया है। निधि निवेदिता की जगह नीरज कुमार सिंह को राजगढ़ कलेक्टर बना दिया गया है, जबकि सभाजीत की जगह अब अर्पित वर्मा रीवा नगर निगम कमिश्नर होंगे। मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ सरकार में निगम मंडलों में की गयी नियुक्तियों को भी निरस्त कर दिया है। राज्य महिला आयोग अध्यक्ष शोभा ओझा, पिछड़ा वर्ग आयोग में जेपी धनोपिया और बाल आयोग में अभय तिवारी की नियुक्ति भी तत्काल प्रभाव से रद्द कर दी गई हैं।

दोनों अफसरों का मारपीट करते हुए एक वीडियो भी हुआ था वायरल

बता दें कि राजगढ़ कलेक्टर निधि निवेदिता और एसडीएम प्रिया वर्मा को हटा दिया गया है। दोनों अफसर उस समय चर्चा में आए थे, जब सीएए के समर्थन में भाजपा की तिरंगा यात्रा के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की थी। इन दोनों अफसरों का मारपीट करते हुए एक वीडियो भी वायरल हुआ था। उसी भीड़ के दौरान एसडीएम प्रिया वर्मा के साथ कार्यकर्ताओं ने बाल खींच दिए थे। रीवा नगर निगम आयुक्त सभाजीत यादव को भी हटा दिया गया है। उन पर पूर्व मंत्री व रीवा विधायक राजेंद्र शुक्ला के साथ विवाद करने का आरोप लगा है। निगम कमिश्नर सभाजीत यादव ने राजेन्द्र शुक्ला को 5 करोड़ का मानहानि का नोटिस भेजा था।


Share
Bulletin