ठेकेदार अपनी मनमानी से कर रहे सड़क निर्माण कार्य

ठेकेदार अपनी मनमानी से कर रहे सड़क निर्माण कार्य

पंचायत ग्रामीण विकास विभाग द्वारा 500 से अधिक जनसंख्या वाले बसाहटों को मुख्य सड़क से जोड़ने का प्रयास प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत सड़क निर्माण जोरो पर चल रहा है।  दरअसल हम बात कर रहे है कोयलीबेड़ा ब्लॉक के संगम चौक से, स्वरूप नगर पिव्ही 62 तक सड़क निर्माण कार्य की जो प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 2013 को 9.91 किलोमीटर सड़क जो 463.67 लाख की लागत से बन रहा है।

सड़क निर्माण की विधि (नियम) का बोर्ड भी नही लगा है जिसमें ठेकेदार-एम, आर कंस्ट्रक्शन की ठेका है ठेकेदार ने उक्त सड़क को पहले से पेटी ठेका को देना शुरू कर दिया और पेटी ठेकेदार ने अपनी मनमानी से सड़क निर्माण कार्य को अंजाम दे दिए हैं मिटटी मुरम गिट्टी को बिना पानी के रोलरिंग किया गया जिस बजाय से सड़क के गिट्टी उखड़ने लगे हैं। अब उस सड़क का डामरीकरण कोई दूसरा पेटी ठेकेदार कर रहा है जो ठेकेदार अपने मनमर्जी तरीके से डामर का काम किया गया है ठेकेदार द्वारा डामरीकरण नियमों का धज्जियां उड़ा रहा है। 

डामर करने के पहले ब्रस और हवा मशीन द्वारा बारीकी से साफ करना पड़ता है ताकि गिट्टी के ऊपरी मिटटी न रहे। पाइप पुलिया के नीचे कंक्रीट भी नहीं किया तो पहले बारिश में ही गड्डों में तब्दील होने लगा पुलिया। सारे नियमों का धज्जियां उड़ाकर काम किया गया है जिसके चलते डामर अभी से उखड़ने लगा है नाराज होकर ग्रामीणों ने सड़क पर विरोध जताया।

ग्रामीणों ने कहना है की यहाँ डामर करने का मशीन कुछ नये तरीका का देखने को मिला क्योंकि मशीन में डामर मिक्स था और उस मशीन को डम्पर गाड़ी में बांधकर सड़क में डामर मिक्स डाला गया है जो ठीक से हो भी नही रह था। जिसके बारे में ग्रामीणों ने ठेकेदार के मुंसी से बोला तो उन्होंने बताया की ज्यादा कुछ बोलोगे तो काम नही होगा जैसा हो रहा है होने दो नही तो डामर वाला सड़क नसीब भी नही होगा।


Share
Bulletin