डीपीएस हादसाः गिरफ्तारी का विरोध, 7 दिनों में धाराएं हटाए जाने की मांग

डीपीएस हादसाः गिरफ्तारी का विरोध, 7 दिनों में धाराएं हटाए जाने की मांग

इंदौर। डीपीएस स्कूल के प्राचार्य की गिरफ्तारी को इंदौर के सीबीएसई प्राइवेट स्कूल गलत बताते हुए लामबंद हो गए हैं। स्कूल संचालको ने 7 दिन में प्राचार्य पर लगाई गई धाराएं हटाए जाने की मांग की है। ऐसा नहीं करने की दशा में बसों का संचालन बंद करने की चेतावनी भी दी है।

डीपीएस बस हादसा विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को हुई डीपीएस स्कूल  के प्राचार्य की गिरफ्तारी और जेल भेजे जाने से इंदौर के शिक्षा जगत में काफी भय का माहौल व्याप्त है। आज इंदौर में हुई प्राचार्यों और सीबीएसई स्कूल संचालकों की बैठक में जमकर नारेबाजी  की और डीपीएस स्कूल के प्राचार्य की गिरफ्तारी की सभी ने निंदा की।

बसों का संचालन कर देंगे बंद...

स्कूल संचालकों ने बैठक में निर्णय लिया कि अगर प्राचार्य पर लगाई गई धाराएं नहीं हटाई गई और शासन प्रशासन ने उनका पक्ष नहीं सुना तो 7 दिन बाद इंदौर के सभी सीबीएसई स्कूलों में बसों का संचालन बन्द कर दिया जाएगा।

सोमवार को हुई थी गिरफ्तारी...

गौरतलब है की जनवरी की शुरुआत में डीपीएस स्कूल की बस हादसे में चार मासूम बच्चों सहित छह लोंगों की मौत हो गई थी जिसके बाद इंदौर सहित स्कूल बसों पर कार्यवाही का दौर चला था, और मृतक बच्चों के अभिभावक द्वारा लगातार प्राचार्य को गिरफ्तार करने की मांग की जा रही थी, और मजिस्ट्रियल जांच में भी हादसे का दोषी डीपीएस स्कूल प्रबंध को बनाया गया था, और सोमवार को प्राचार्य को गिरफ्तार कर न्यायालय पहुंचाया गया था, जहां से डीपीएस स्कूल के प्राचार्य को 22 फरवरी तक जेल भेज दिया गया था।

 


Share
Bulletin