भारतीय महिला हॉकी टीम को मिला खेल मंत्री से मिला हर संभव मदद का आश्वासन

भारतीय महिला हॉकी टीम को मिला खेल मंत्री से मिला हर संभव मदद का आश्वासन

दुनिया के नौवें नंबर की भारतीय महिला हॉकी टीम ने मेजबान जापान को 3-1 से हराकर रविवार को एफआइएच महिला सीरीज फाइनल्स का खिताब जीतकर इस साल के अंत में होने वाले ओलंपिक क्वालीफायर के लिए क्वालीफाई किया। हाल ही में खेल मंत्री किरण रिजिजू ने एफआइएच महिला सीरीज फाइनल्स का खिताब जीतकर स्वदेश लौटी भारतीय महिला हॉकी टीम से मुलाकात की और उन्हें ओलंपिक क्वालीफायर के लिए हर संभव का आश्वासन दिया है। कप्तान रानी रामपाल की अगुआई में इस टूर्नामेंट में भारत अजेय रहा, जहां उसने आक्रामक खेल दिखाते हुए 29 गोल दागे।

खेल मंत्री ने कहा भारतीय महिला हॉकी टीम ने हमें गौरवांवित किया

रिजिजू ने खिलाडि़यों से मुलाकात के दौरान कहा कि भारतीय महिला हॉकी टीम काफी अच्छा खेली और हमें गौरवांवित किया। मंत्रालय खिलाडि़यों को व्यक्तिगत और टीम के रूप में सभी तरह का मदद मुहैया कराएगा। मैं उनके कोचों से मिलने के लिए बेंगलुरु में ट्रेनिंग सेंटर जाऊंगा और टीम की जरूरतों पर बात करूंगा। भारत के पास ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने और हॉकी में पदक जीतने का अच्छा मौका है। इस मौके पर महिला टीम के कोच शोर्ड मारिन के साथ भी खेल मंत्री ने बात की। मालूम हो कि भारतीय महिला हॉकी टीम अब तक दो बार 1980 और 2016 में ओलंपिक में शिरकत कर चुकी है।

कॉमनवेल्थ गेम्स से निशानेबाजी को हटाए जाने के बाद इस आयोजन से हटने की दी धमकी आपकी जानकारी के लिए बता दे कि महिला हॉकी टीम के स्वागत समारोह के दौरान खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि भारतीय ओलंपिक संघ (आइओए) 2022 में होने वाले बर्मिघम कॉमनवेल्थ गेम्स से हटने का फैसला अकेले नहीं कर सकता है। आइओए ने कॉमनवेल्थ गेम्स से निशानेबाजी को हटाए जाने के बाद इस आयोजन से हटने की धमकी दी है। रिजिजू ने कहा कि मंत्रालय कोई भी फैसला करने से पहले निशानेबाजी महासंघ और आइओए के साथ विस्तृत विचार विमर्श करेगा। उन्होंने कहा कि मैंने निशानेबाजी महासंघ से चर्चा नहीं की है। आधिकारिक तौर पर मैं उनकी स्थिति से अवगत नहीं हूं। अगर आपको बहिष्कार करना है तो आपको सरकार से पूछना होगा क्योंकि ऐसे फैसले एकतरफा नहीं लिए जा सकते। इन पर फैसला उचित सलाह मशविरा के बाद किया जाएगा। विवादों से घिरे भारतीय तीरंदाजी संघ और भारतीय जिम्नास्टिक्स संघ के मसले पर खेल मंत्री ने कहा कि सरकार संघों के कामकाज में दखलअंदाजी नहीं करेगी लेकिन अगर किसी भी संघ द्वारा खराब प्रबंधन की वजह से खेल खराब होता है तो हम चुप नहीं बैठेंगे। इस मौके पर रिजिजू ने कहा कि वह फिलहाल अरुणाचल प्रदेश की तीरंदाजी संघ के अध्यक्ष के पद पर काबिज हैं लेकिन अपने पद से वह जल्द ही इस्तीफा देंगे।


Share
Bulletin