छत्तीसगढ़ में सरकारी पाठ्यपुस्तको में त्रुटियां उजागर

छत्तीसगढ़ में सरकारी पाठ्यपुस्तको में त्रुटियां उजागर

बस्तर जगदलपुर। छत्तीसगढ़ सरकारी पाठ्यपुस्तको में त्रुटियां उजागर होने के बाद अब छत्तीसगढ़ राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा प्रकाशित टीचर्स ट्रेनिंग माडयूल्स में भी कई गंभीर त्रुटियां देखने को मिली है।

बताया जा रहा है कि टीचर्स ट्रेनिंग मॉड्यूल्स के आधार पर बस्तर संभाग सभी जिलों में शिक्षकों के क्षमता विकास प्रशिक्षण आयोजित किए गए थे। उसी प्रशिक्षण के आधार पर शिक्षक अपने स्कूलों में अब भी छात्रों को त्रुटी पूर्ण शिक्षा दे रहे टीचर्स ट्रेनिंग मॉड्यूल्स में पेज क्रमांक 76 नाउन्स एंड नम्बर्स में fish का प्लूरल fish बताया गया है जो कि पूर्णतः सही नहीं है।ग्रामर रूल्स के तहत डिफरेंट वैरायटी के फिश होने पर fish का प्लूरल fishes होता है ।

पेज क्रमांक 88- 89 में ऑमिशन ऑफ आर्टिकल्स - the में प्रॉपर नाउंस व मटेरियल नॉउन्स के पहले the के उपयोग नहीं किए जाने के बारे में बताया गया है जबकि ग्रामर रूल्स के तहत जब विशिष्टता प्रदान करनी हो तो प्रॉपर नाउन्स व मटेरियल नाउन्स के पूर्व the का प्रयोग होता है।

समाचार पत्र ,नदियां, पवित्र ग्रंथ ये सभी प्रॉपर नाउन्स के अंतर्गत आते हैं, जिनके पहले the का प्रयोग होता है। पेज क्रमांक 109 में कन्ट्रेक्टिड फॉम अव द वर्ब के अंतर्गत कुछ ऑक्जलरी वर्ब्स के शॉर्ट फॉम गलत दिए गए हैं। इसी पेज में can not को अलग-अलग वर्ड के रूप में बताया गया है जबकि वास्तव में cannot एक ही शब्द है जिसे अलग-अलग लिखना त्रुटिपूर्ण है। हालांकि इस बारे में अधिकारीयो को अवगत करा दिया गया है लेकिन अब तक कोई पहल नहीं होना एक सोचनीय पहलू बन गया है। वहीं अधिकारी कोई बात करने से पल्ला झाड़ रहे है।


Share
Bulletin