हत्या के षड्यंत्र में महिला गई जेल, साथ ही 9 दिन की बच्ची व तीन मासूम

हत्या के षड्यंत्र में महिला गई जेल, साथ ही 9 दिन की बच्ची व तीन मासूम

भिलाई के रोंगटा कॉलेज में इंजीनियरिंग कर रहे छात्र मनीष साहू अपने घर ग्राम सरना में फोर्थ सेमेस्टर का इक्जाम दे कर लौटा था और वापस भिलाई लौटने से दो दिन पूर्व उसका शव घर के बाड़ी में मिला जिस पर रघुनाथ नगर पुलिस कार्यवाही करते हुये उसके चाचा कैलाश साहू, चाची सुमित्रा, और चचेरे भाई सतेंद्र साहू को हत्या के आरोप में जिले भेज दिया।

दरअसल पुलिस ने इस मामले का खुलासा करते हुये बताया कि आरोपी सतेंद्र की पत्नी चंचला के साथ पिछले 5 सालों से अवैध संबंध थे जिसकी जानकारी सतेंद्र और उसके घर वालो को लग गई और यह बात सतेंद्र और उसके परिवार वालो को नागवार गुजरी और मृतक मनीष साहू की हत्या की साजिस रच डाली वहीं हत्या की रात सतेंद्र की पत्नी के मोबाइल से मृतक मनीष साहू का मैसेज के जरिए सतेंद्र के घर रात में आने की बात हुई थी वही आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

लेकिन जाँच उपरांत पुलिस ने पाया कि हत्या की साजिश में मृतक के चचेरे भाई सतेंद्र की पत्नी चंचला भी शामिल है। उसने मोबाईल के जरिए मृतक को घर बुलाया था अब तो है आरोपी चंचला के साथ चार बच्चों की वे किसके सहारे रहेंगे इन बच्चों की उम्र महज दो, तीन, चार साल, है और एक जो गोद में है उसका महज नव दिन ही हुआ हैं वही पुलिस ने बताया कि चंचला के मैके वालों ने भी इस मामले के बाद चंचला और उसके बच्चों से कोई भी सम्बन्ध नही रख रहे है और बच्चों को रखने से मना कर दिया।

वही दूसरी ओर चंचला के पति सतेंद्र का हालत खराब है दरअसल न्यालय से जेल लौट रहे कैदियों का पुलिस वेन का एक्सीडेंट हो गया था जिसमे दो बाईक सवार की मौत हो गई थी उस वेन में सतेंद्र भी था जिसकी हालत गंभीर देखते हुये अम्बिकापुर रिफर कर दिया गया था डॉक्टर उसकी जान तो बचा ली है लेकिन होस में नही हैं उसकी स्थिति कोमा में बताई जा रही हैं ऐसे में इन मासूमो की देख भाल कोन करेगा अब न्यालय ही इन मासूमो की मासूमियत देखी जाएगी।

 


Share
Bulletin