गर्भवती के साथ घर में घुसकर किया दुष्कृत्य, नहीं हो रही सुनवाई

गर्भवती के साथ घर में घुसकर किया दुष्कृत्य, नहीं हो रही सुनवाई

इंदौर। शहर में हैवानियत का एक औऱ मामला सामने आया है। एक महिला जो 9 माह की गर्भवती थी, उसके साथ बदमाश ने घर में घुसकर दुष्कर्म किया।मामले की शिकायत के लिए यहाँ वहां भटकने के बावजूद उसकी ऍफ़आईआर दर्ज नहीं की गयी। बच्चा पैदा होने के बावजूद इंसाफ के लिए पीडिता यहाँ वहा चक्कर काटने को मजबूर है।

दरअसल बेटमा थाना क्षेत्र के सागोर कुटी की रहने वाली पीडिता का पति काम के सिलसिले में महाराष्ट्र गया हुआ था।देर रात को जब दरवाजे पर दस्तक हुई तो पीडिता ने दरवाजा खोला, इसके बाद गुड्डू साहू नामक बदमाश उसके कमरे में घुसा और पीडिता के साथ दुष्कर्म किया। पीडिता अपनी हालत का हवाला देती रही, लेकिन बदमाश ने एक न सुनी। पति के आने के बाद पीडिता ने पहले इलाज करवाया और गर्भवती हालत में ही शिकायत करने बेटमा थाने पहुंची, लेकिन वहां उसकी किसी ने नहीं सुनी। इसके बाद पीडिता महिला थाने पहुंची, लेकिन वहां भी उसकी सुनवाई नहीं हो सकी।

जनसुनवाई में महिला ने सुनाई अापबीती...

इस दौरान पीडिता ने बच्चे को जन्म भी दे दिया, लेकिन उसके बाद भी बदमाश उसे और उसके पति को धमका रहा है, अपने लिए इंसाफ की मांग करते हुए पीडिता मंगलवार को पुलिस जनसुनवाई में पहुंची और एसपी हेडक्वार्टर मोहम्मद युसूफ कुरैशी को अपनी आपबीती बताई। मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी कुरैशी ने तत्काल कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।

महिला संबंधी अपराधों को लेकर पुलिस को संवेदनशीलता दर्शाने के कई आदेश जारी हो चुके हैं, लेकिन पुलिस इसमें भी गंभीरता नहीं दिखाती, लेकिन सवाल महिला थाने पर भी उठता है, कि महिला थाना महिलाओ के लिए संवेदनशील क्यों नही है। अब एसपी के आदेश के बाद पीडिता को उम्मीद है, कि शायद उसकी सुनवाई हो जाए।


Share
Bulletin