रतलाम पुलिस को मिली सफलता, पकडा गया मास्टरमाइंड

रतलाम पुलिस को मिली सफलता, पकडा गया मास्टरमाइंड

रतलाम। महिन्द्रा फाइनेंशियल कंपनी के कर्मचारियों से लूट के मामले में करीब 1 महीने की मशक्कत के बाद पुलिस ने मास्टर माइंड और 2 अन्य फरार आरोपियों को धरदबोचा है। मास्टर माइंड ने साथियों के साथ मिलकर मलेनी नदी के पास 4 अगस्त को और बड़ायलामाताजी रोड पर 3 अक्टूबर को वारदात करने की बात भी कबूल की है। आरोपियों ने पहली लूट की घटना के बाद नई बाइक भी खरीदी थी जिसे दूसरी लूट में इस्तेमाल भी किया। पुलिस ने बाइक को भी जप्त कर लिया है।

शुक्रवार दोपहर पुलिस कंट्रोल रूप पर पत्रकार वार्ता में एसपी अमित सिंह, एएसपी राजेश सहाय और एएसपी प्रदीप शर्मा ने बताया कि 11 दिसंबर को ग्राम बड़ौदा फंटा व मेवासा गांव के नाले के पास शाम को महेंद्र फाइनेंस के हाकिमवाड़ा निवासी हेमेंद्रसिंह सिसोदिया और जावरा निवासी स्वदेश पंवार बाइक पर 4 लाख 18 हजार रुपए कलेक्शन कर रतलाम लौट रहे थे। फंटे पर बाइक पर सवार दो बदमाश रोंग साईड से आए और कर्मचारियों को लात मारकर गिरा दिया एवं बैग छीनकर भाग निकले। बैग में 4 लाख 18 हजार रुपए रखे हुए थे।

इस मामले में पुलिस ने पहले 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया था। इसके बाद एएसपी प्रदीप शर्मा, एएसपी डॉ. राजेश सहाय, एसडीओपी ग्रामीण संजीव मूले, एसडीओपी डीआर माले के निर्देशन में थाना प्रभारी नामली पुलिस और पिपलौदा थाना प्रभारी आरसी भाटी की टीम गठित की गई थी। पूछताछ में हुए खुलासे और लगातार सर्चिंग के बाद गुरुवार को 3 अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है। इसमें परमानंद पिता समरथ निवासी चौरासीबड़ायला जो गैंग का मुख्य सरगना है। राजकुमार पिता बंसीलाल पाटीदार निवासी मावता और सुखदेव पिता मांगीलाल गायरी निवासी मावता हैं।

ये वारदात भी कबूली परमानंद से पूछताछ में उसने पुलिस को बताया कि वारदात के पहले भी इसी गैंग ने मिलकर जिले में दो अन्य वारदातों को अंजाम दिया था जिसमें 4 अगस्त 2017 को मलेनी नदी के पुलिया के पास कार पंचर होने पर कार चालक व उस में बैठी महिला के साथ मारपीट पर सोने चांदी के जेवर और 28 हजार रुपए लिए थे घटना में फरियादी हाजी रमजान पठान ने नाम लिख आने पर शिकायत दर्ज कराई थी इसके अलावा 3 अक्टूबर 2017 को पिपलोदा थाना अंतर्गत बड़ेला माताजी और लेटा के बीच तीन बदमाशों ने मोटर साइकिल खड़ी करके मुंह पर कपड़ा बांधकर माइक्रो फाइनेंस कर्मचारी कमल को मार गिराया था और फिर उससे मारपीट की कमल का बैग छीन कर भाग निकले थे दर्ज कराया था।

यह आरोपी पहले से थे गिरफ्त में पुलिस ने राधेश्याम पिता शंकरलाल मकवाना ग्राम भजपुरिया संतोषपुर ग्राम से पिता दूल्हे सिंह निवासी हल्द्वानी संतोष पिता बद्रीलाल राठौड़ निवासी रणायरा अशोक पिता भगवती लाल कुमावत निवासी ग्राम मावता को पहले गिरफ्तार कर लिया बढ गया था इसी गैंग के राधे उर्फ राधेश्याम पिता गोरधन निवासी मावता और कान्हा उर्फ कन्हैया लाल निवासी मावता को पुलिस की तलाश है जो अभी फरार है।


Share
Bulletin