27 लोगो को आजीवन कारवास के बाद मृतक के परिजनों ने की आतिशबाजी, ग्रामीणों को दी धमकी दहशत में गाँव बन्द

27 लोगो को आजीवन कारवास के बाद मृतक के परिजनों ने की आतिशबाजी, ग्रामीणों को दी धमकी दहशत में गाँव बन्द

सचिन राठौड़ - 8 मार्च 2012 को आगजनी व् हत्या के मामले में न्यायालय द्वारा कल 27 लोगो को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई जिसके बाद ग्रामीणों का आरोप है की मृतक के परिवार के लोगों ने ग्राम में आतिशबाजी कर ग्रामीणों को धमकाना शुरू कर दिया जिससे दहशत में आये ग्रामीणों ने आज ग्राम पूरी तरह बन्द करके भागसुर चौकी का घेराव कर दिया जहां थाना प्रभारी के पहुंचने के बाद उचित कार्यवाही के आश्वासन के बाद घेराव ख़त्म हुआ है ज्ञात हो के इस आगजनी और हत्या काण्ड के पहले गिलदार का क्षेत्र में दबदबा था मारपीट हप्ता वसूली उसका काम था जिसके चलते पहले भी कई बार ग्राम में विवाद हो चुका है। उसी से चलते विवाद में ग्रामीणों ने उसके भाई की हत्या कर दी थी।

जेल मंत्री बाला बच्चन से की उचित कार्यवाही की मांग

हालांकि अभी गिलदार भी जेल ही बन्द है लेकिन 27 को मिली सजा के बाद गिलदार के बेटे और परिजन मिलकर ग्रामीणों को वापस धमकाने लग गए इस मामले में पुलिस जहां जांच कर कार्यवाही की बात कर रही है वहीं प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री बाला बच्चन सजा के फैसले को न्यायालय का मामला बता कर उनकी जानकारी में नही होना बता रहे लेकिन मिडिया से निजी जानकारी के बाद अब मामला संज्ञान में लेकर उचित कार्यवाही की बात कर रहे है ज्ञात हो के बाल बच्चन का ग्रहगांव कासेल है  और उसी के पास ग्राम भागसुर बसा है। 

 


Share
Bulletin