दूध के दाम बढ़ने के विरोध में भाजपा का हल्लाबोल, संतनगर में कर रहे विरोध प्रदर्शन

दूध के दाम बढ़ने के विरोध में भाजपा का हल्लाबोल, संतनगर में कर रहे विरोध प्रदर्शन

विवेक शर्मा : विगत चार माह में दूध के दामों में दूसरी बार बढ़ोत्तरी हुई है। जहां एक और दूध के दाम बढऩे का असर रोजमर्रा की जरूरी चीजों पर पड़ रहा है। बीते चार माह में दूध के पैकिट कीमत में दो बार इजाफा हुआ है जो दो रूपये प्रति लीटर है।

भाजपा को मिला विरोध का मौका
प्रदेश में कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद हो रही दूध के दाम में वृद्धि होने पर भाजपा को विरोध का मौका मिल गया है। हाल ही में दूध के दाम में हुई वृद्धि के विरोध में रविवार को भाजपा नेताओं ने संतनगर के कंवरराम चौराहे पर प्रदर्शन कर जमकर नारेबाजी की है।  

प्रदेश सरकार का आम जनमानस से कोई सरोकार नहीं..
भाजपा के भोपाल जिला उपाध्यक्ष राम बंसल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने एक बार फिर प्रदेश के गरीब एवं मध्यम वर्गीय परिवार की आर्थिक कमर तोड़ी है। पहले पेट्रोल और डीजल पर 3 रुपए की बढ़ोतरी अब दूध पर प्रति लीटर 2 रुपए बढ़ाकर कांग्रेस सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि वह सिर्फ सूट बूट वालों की सरकार है। आम जनमानस से इस सरकार का कोई सरोकार नहीं है। नवरात्र जैसे महत्वपूर्ण त्यौहार अष्टमी नवमी वाले दिन जब भंडारों प्रसादी आदि में सबसे अधिक दूध का उपयोग किया जाता है तब दूध का दाम बढ़ाना निश्चित ही गलत फैसला है।

दूध के दाम बढ़े
दूध के दाम बढ़ने से दूध से बनने वाली सभी वस्तुओं के दाम आसमान छूने लगेंगे, सरकार ने हिन्दू त्यौहार में दूध के दाम बढ़ाकर मुनाफा कमाने की सोची समझी चाल चली है जिसका हम पुरजोर विरोध करते हैं। वहीं सरकार से मांग करते हैं कि तत्काल दूध के बढ़े हुए दामों को वापस लिया जाए।
 


Share
Bulletin