किसान की जमीन पर स्टे होने के बावजूद किसान की फेंसिंग पर चलवाया बुलडोजर

किसान की जमीन पर स्टे होने के बावजूद किसान की फेंसिंग पर चलवाया बुलडोजर

आपको बता दें की इस विवादित जमीन की बात करें तो इस जमीन में पीड़ित किसान के खेत पर कपिल धारा के तहत एक कुआं और किसान क्रेडिट कार्ड भी बना हुआ है अगर पीड़ित किसान की बात पर यकीन किया जाये तो जब नयाब तहसीलदार हम लोगों की जमीन पर कार्यवाही करने गये तब ना ही नायाब तहसीदार ने हम लोग को किसी भी प्रकार की सूचना नही दी गई कार्यवाही के बाद जब हम लोगों को सूचना लगी जब तहसीलदार को बताया की जमीन पर पहले से ही स्टे ऑर्डर हमारे पास है तो अपने बगैर बताये और बगैर कागजात देखे अपने कैसे कार्यवाही की तो उल्टा नयाब तहसीदार ने हम लोगों को पुलिस का भय दिखा कर वहाँ से भगा दिया।

अगर हम बरोदा ग्राम के निवासियों और पीड़ितों की बात पर यकीन करें तो ये बात कहीं ना कहीं सटीक बैठती नजर आ रही है नयाब तहसीलदार ने जिस प्रकार के कागजातों पर नाम चढ़ाये है उस साफ तौर यकीन किया जा सकता है जिस पप्पू भंडारी ने जमीन खरीदी है वो पिछले एक वर्षों से राजस्व के तीन केस हार चुका है।

जब इस संबध में नयाब तहसीलदार प्रेम गोंड से जानना चाहा की आखिरी इस जमीन क्या मामला है तो नयाब तहसीलदार प्रेम गोंड ने बताया ये जमीन का मामला पिछले चार वर्षों से पेंडिंग पड़ा था और कार्यवाही के समय समय पर पीड़ित किसान को सूचित किया गया लेकिन इन वर्षों में सन्तोष जनक उत्तर ना मिलने के कारण ये कार्यवाही की जब कार्यवाही दिनांक समय वहाँ कोई पीड़ित व्यक्ति या किसान कोई भी कागजात नही दिखा पाये।

 


Share
Bulletin