शिवपुरीः पुलिस वाले ने वर्दी पर लिखकर टाँगा नोट, लिखा क्या फायदा ऐसी वर्दी का जो अपनी सुरक्षा ख़ुद नहीं कर सकती

शिवपुरीः पुलिस वाले ने वर्दी पर लिखकर टाँगा नोट, लिखा क्या फायदा ऐसी वर्दी का जो अपनी सुरक्षा ख़ुद नहीं कर सकती

के.के.दुबे - शिवपुरी का एक आरक्षक रविंद्र शर्मा मारपीट के बाद बदला लेने के लिए निकल गया और अपनी वर्दी पर संदेश लिखा छोड़ गया कि क्या फायदा ऐसी वर्दी का, जो अपनी सुरक्षा खुद नहीं कर सकती। यही नहीं, आरक्षक रविंद्र शर्मा ने यह भी लिखा कि या तो मरकर लौटूंगा या फिर मारकर। दरअसल, बताया जा रहा है कि पुलिस आरक्षक के साथ 3 दिन पहले मारपीट की गई थी। पुलिस ने मामले में केस दर्ज किया लेकिन जब गिरफ्तारी नहीं हुई तो आरक्षक बदला लेने के लिए गुस्से में निकल पड़ा। दूसरी तरफ इस मामले की सूचना मिलते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। फौरन पुलिस आरक्षक की लोकेशन पता लगाई गई और उससे संपर्क किया गया।

तीन दिन पहले कुछ लोगों ने की थी आरक्षक के साथ मारपीट

पुलिस अधीक्षक का कहना है कि संभवत भावनात्मक होकर आरक्षक ने यह कदम उठाया। आरक्षक सकुशल अपने ग्वालियर स्थित निवास पर मिला है। बताया जाता है कि तकरीबन 3 दिन पहले उसके साथ चार बदमाशों ने मारपीट की थी, जिनके नाम महेंद्र रावत, देवेंद्र रावत, राकेश धाकड़ और भूरा हैं। आरोपियों में से एक आरोपी ने आरक्षक को फ़ोन पर देख लेने की धमकी भी दी, जिसका ऑडियो भी सामने आया है। वहीं पुलिस अधीक्षक का कहना है कि फिलहाल आरोपियों को पकड़ लिया गया है और मामले की जांच की जा रही है। जबकि यह तथ्य भी सामने आए हैं कि 2 महीने पहले अवैध शराब के मामले में कार्रवाई को लेकर आरक्षक के साथ विवाद हुआ था।


Share
Bulletin