पीटीएस उज्जैन द्वारा महिला नव आरक्षकों का लगा प्रशिक्षण कैंप, 17 ट्रेनरों ने दी अलग-अलग प्रकार की ट्रेनिंग

पीटीएस उज्जैन द्वारा महिला नव आरक्षकों का लगा प्रशिक्षण कैंप, 17 ट्रेनरों ने दी अलग-अलग प्रकार की ट्रेनिंग

रवि पाटीदार - पीटीएस उज्जैन द्वारा महिला नव आरक्षको का प्रशिक्षण केम्प  बागली अनुभाग के अंतर्गत आने वाले पुंजापुरा के पास स्थित पारस डैम से लगे हुए जंगल में 350 महिला नव आरक्षको का लगाया गया था ट्रेनिंग कैंप जो पहली बार आयोजित किया एक सप्ताह तक चले इस ट्रेनिंग कैंप में 350 नव आरक्षक को 17 ट्रेनरो द्वारा अलग-अलग प्रकार की ट्रेनिंग दी  गई।

ट्रेनिंग में नव अरक्षकों को जंगल सर्च, लुटेरों से बचाने के लिए उपाय, गांव में घुसे बदमाशों को निकालने के उपाय, डकैतों से गाव की रक्षा के साथ ही दिशा ज्ञान की भी ट्रेनिंग दी  गई। नवअरक्षकों को रात्रि के समय जंगल में सर्च के दौरान दिशा का ज्ञान नहीं होने पर ध्रुव तारा, हनुमान जी के मंदिर के द्वार, मस्जिद की मीनार एवं कब्रिस्तान के गेट की दिशा दक्षिण दिशा में होने पर दिशा ज्ञान के साथ ही अगर गांव में डकैत आ जाते हैं तो गांव की रक्षा व डकैतों को किस प्रकार से घेरा जाए इस प्रकार की ट्रेनिंग दी गई।

जिन्हें केम्प में मौखिक रूप से बताया जाता है। फिर जंगल में नाट्य रूपांतरण करके बताया गया पुंजापुरा में डकैती करके जंगलो में अपने डेरे में अपने लुटे माल का बंटवारा करते समय पुलिस ने उनकी चारो ओर से घेरा बन्दी करके सभी डकैतों को मार गिराया ओर उनसे लुटा हुआ माल व हथियार जप्त किया सभी महिला नव आरक्षको को पहले इस प्रकार के ऑपरेशन में किस प्रकार अंजाम दिया जाता है मौखिक रूप से बताया गया उसके बाद जंगल मे नाट्य रूप में उन्हें बताया गया।

 


Share
Bulletin