नीमच में ग्रामीणों ने पंचायत भवन में किया सरपंच का घेराव

नीमच में ग्रामीणों ने पंचायत भवन में किया सरपंच का घेराव

राजेश लक्षकार : सरकार द्वारा चलाई जा रही है विभिन्न योजनाओं का समुचित लाभ न मिलने से शुक्रवार को जीरन तहसील में ग्राम कुंचड़ोद के ग्रामीणों का आक्रोश फुट पड़ा। ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत पहुंचकर नारेबाजी की ओर ग्राम पंचायत का घेराव कर लिया। मामले की सूचना पाते ही सरपंच पति नवल गिर गोस्वामी जब पंचायत भवन पहुंचे तो ग्रामीणों ने उन्हें भी घेर लिया। भाजपाई सरपंच पति नवलगिर को भाजपा नीमच दक्षिण मण्डल के महामंत्री दुर्गाशंकर बामनिया और पूर्व सरपंच सूरजसिंह चौहान ने खूब खरी खोटी सुनाई।

ग्रामीणों ने पंचायत सचिव, सहायक सचिव और सरपंच की कार्यप्रणाली पर आक्रोश जताते हुए कहा की जानबूझकर पात्र लोगो को शासन की योजनाओं से वंचित किया जा रहा है। विधवा एंव वृद्धावस्था पेंशन के प्रकरण पर कोई कार्यवाही नही हो रही है। प्रधानमंत्री आवास योजना के प्रकरणों में पात्र लोगो को बिना कारण बताए नाम काट कर योजना से वंचित रखा जा रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि शासन द्वारा पूर्व सर्वे करवाये गए थे। जिसमें 81 लोगो को पक्के मकान बनाए जाने की सूची जारी की गई थी उसमें से भी मात्र 10- 12 लोगो को ही आवास योजना का लाभ मिल पाया।

ग्रामीणो ने सरपंच पति का घेराव करते हुए उन पर 20 हजार लेकर आवास योजना में लाभ देने का आरोप भी लगाया गया। ग्रामीणों इस मौके पर जीरन तहसीलदार, कलेक्टर नीमच और प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम स्थानीय मौका पटवारी को ज्ञापन भी सोपा। ग्रामीणों ने सचिव एवं सहायक सचिव के खिलाफ भी अपना आक्रोश दर्ज करवाते हुए कहां की दोनों ही अक्सर पंचायत मुख्यालय से नदारद रहते हैं, ग्रामीणों ने मौके पर सचिव एवं सहायक सचिव कि अनुपस्थिति को लेकर पंचनामा भी बनाया पटवारी को सौंपा है।


Share
Bulletin