स्मार्ट होते इंदौर में कई पुराने ब्रिज की हालत खस्ता, 50 साल से ज्यादा पुराने है दोनों ब्रिज

स्मार्ट होते इंदौर में कई पुराने ब्रिज की हालत खस्ता, 50 साल से ज्यादा पुराने है दोनों ब्रिज

इंदौर शहर को स्मार्ट बनाने के लिए इंदौर नगर निगम द्वारा लगातार कार्य किए जा रहे है इस को लेकर निगम द्वारा कई ब्रिज निर्माण भी किए जा रहे है लेकिन इंदौर नगर निगम के अधिकारी पुराने ब्रिज को भूलते नजर आ रहे है इंदौर शहर को जोड़ने वाले ब्रिज पटेल ब्रिज और शास्त्री ब्रिज की हालत लगातार जर्जर हो रही है ब्रिज के निचे छज्जे गिरे पड़े है ब्रिज के सरिये नजर आने लग गए हे वही इन दोनों ब्रिज शहर के मुख्य मार्गो को जोड़ते है जिससे हजारो की संख्या में छोटे बड़े सभी वाहन इन ब्रिज से गुजरते है वहीं ब्रिज के नीचे से रेल लाइन भी बनी हुई है। जिसके कम्पन से ब्रिज की हालत और खस्ता हो रही है लेकिन निगम के अधिकारी इस और कोई ध्यान नहीं दे रहे है। 

स्मार्ट होते इंदौर शहर में निगम के अधिकारी इंदौर के पुरानी धरोहर को भूलते नजर आ रहे है इंदौर शहर को जोड़ने वाले इंदौर शहर का शास्त्री ब्रिज हो या पटेल ब्रिज दोनों की हालत लगातार जर्जर है इंदौर शहर में विकास के नाम पर दर्जनों ब्रिज के काम प्रगति पर है लेकिन इंदौर शहर को जोड़ने वाले पटेल ब्रिज और शास्त्री ब्रिज हादसे को न्योता दे रहे है शास्त्री ब्रिज की हालत तो यह है की ब्रिज के नीचे जगह जगह पर छज्जे गिर गए है और सरिये नजर आ रहे है लेकिन उसके बाद भी निगम के अधिकारी ब्रिज की सुध नहीं ले रहे है और यह दोनों ब्रिज कभी भी बड़े हादसे को न्यौता दे सकते है शास्त्री ब्रिज की जर्जर हालत का जायजा लिया स्वराज सवांददाता विकास सिंह सोलंकी ने।

वहीं इस पूरे मामले में जब निगम अपर आयुक्त संतोष टैगोर से बात की तो उन्होंने भी माना की दोनों ब्रिज की हालत खराब है निगम आयुक्त से बातकर ब्रिज का निरक्षण किया जाएगा ब्रिज का निर्माण पीडब्ल्यूडी ने किया था आर्कटिक और इंजीनियर को ब्रिज का निरक्षण कर आगे की रणनीति बनाई जाएगी। 

गौरतलब है की शहर में पिछले दिनों होटल एमएस हादसे से सबक लेकर इंदौर नगर निगम ने जर्जर भवनों के साथ सरवटे बस स्टेण्ड को ढहाने की कार्यवाही की थी लेकिन इंदौर शहर में हादसे को न्यौता देती इन जर्जर ब्रिज की ओर निगम अधिकारियो का ध्यान नहीं जा रहा है।
 


Share
Bulletin