सभी भेदभाव व मतभेदों को छोड़कर कोरोना वायरस के खिलाफ एकजुट होने की जरुरत -अखिलेश यादव

सभी भेदभाव व मतभेदों को छोड़कर कोरोना वायरस के खिलाफ एकजुट होने की जरुरत -अखिलेश यादव

लखनऊः देश में कारोना वायरस का कहर बहुत तेजी से फैल रहा है। इस वायरस के थर्ड स्टेज में प्रवेश करने के बाद से सब बेहद गंभीर है। पीएम नरेंद्र मोदी के मंगलवार रात को 21 दिन के लॉकआउट की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने लॉकडाउन में लोगों से सहयोग की अपील की है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जनता से इस लॉकडाउन में सहयोग की अपील की है। उन्होंने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि आगे के सुखद भविष्य के लिए 21 दिन अहम हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि प्रत्येक नागरिक को सभी भेदभाव व मतभेदों को छोड़कर कोरोना वायरस के खिलाफ एकजुट होने की जरुरत है।

योगी सरकार 20 लाख से अधिक गरीबों के खाते में एक-एक हजार रुपया किया ट्रांसफर

आपकी जानकारी के लिए बता दे ​कि कोरोनो वायरस के संक्रमण की चेन को तोडऩे के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात देश में 21 दिनों तक लॉकडाउन की है। यह 21 दिन भारत के सुखद भविष्य के निर्माण में ऐतिहासिक भूमिका निभाएंगे। इसी कारण अब तो जन-जन से अपील है कि वो इस कार्य में जुटे प्रत्येक व्यक्ति व विभाग के साथ सहयोग करे। अखिलेश यादव ने अपनी सांसद निधि से आजमगढ़ मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर्स के लिए एक करोड़ रुपया भी दिया है। बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने केंद्र के साथ राज्य सरकार से इस संकट की घड़ी में गरीबों के लिए सरकार से आर्थिक मदद की मांग की है। उनकी इस मांग से पहले ही योगी आदित्यनाथ सरकार 20 लाख से अधिक गरीबों के खाते में एक-एक हजार रुपया ट्रांसफर कर चुकी है।


Share
Bulletin