सारंगढ़ के नायब तहसीलदार व खाद्य निरीक्षक ने छापामार कार्यवाही करते हुए योजनाओ की खोली पोल

सारंगढ़ के नायब तहसीलदार व खाद्य निरीक्षक ने छापामार कार्यवाही करते हुए योजनाओ की खोली पोल

भारतभूषन साहू - सारंगढ़ के धान संग्रहण केन्द्र में चल रहा अनियमतिता और अव्यवस्था के साथ साथ शासन को करोड़ो रूपये का चूना लगाने वाली कई माफियानुमा योजनाओ के सहारे फल-फूल रहे आर्थिक अपराधो को नायब तहसीलदार कमलावती सिंह और खाद्य विभाग की टीम ने छापामार कार्यवाही कर पर्दाफाश किया है सोसायटी से निकले धान को कंडम वाहन मे क्षमता से अधिक मात्रा मे परिवहन करने की कहानी हो या कहानी सोसायटी के द्वारा बिना स्टेंसिंल के धान के बोरो को भेजने की बात हो या बात बिना डंपिंग किये धान का डायरेक्ट स्टेकिंग करने की हो। हर जगह पर अवैध उगाही और अनियमितता के साथ शासन को चूना लगाने की जग जाहिर है अधिकारियो ने 187 बोरा अमानक धान की जप्ती बनाकर धान माफियाओ में हडक़ंप की स्थिति पैदा कर दिया है।

योजनाओं का खुली पोल

सारंगढ़ के सभी 12 सहाकारी समितियो के द्वारा किया जा रहा धान खरीदी को परिवहन ठेकेदार बजरंग अग्रवाल खरसिया के द्वारा धान संग्रहण केन्द्र टीसीपीसी ले जाया जा रहा है धान संग्रहण केन्द्र हरदी के नाम पर टीसीपीसी में डंप हो रहे धान का संग्रहण मे बीते कई दिनो से अनियमितता की शिकायते छनकर सामने आ रही थी। आज सुबह 9 बजे नायब तहसीलदार कमलावती सिंह और खाद्य निरीक्षक श्री यादव के साथ प्रशासनीक अमले की दबिश से धान संग्रहण केन्द्र में चल रहा मनमानी और अव्यवस्था के साथ शासन को करोड़ो रूपये के चूना लगाने वाली योजनाओ का पोल खुल गया।

गाडिय़ो का राजिस्ट्रेशन निरस्त

इस धान संग्रहण केन्द्र में जो गाडियां चल रही है उसमे से अधिकांश गाडिय़ा का फिटनेस नही है कई गाडिय़ा लगभग 20 साल पुरानी है तथा परिवहन विभाग से इन गाडिय़ो का राजिस्ट्रेशन निरस्त हो गया है अब इन्ही गाडिय़ो में फर्जीवाड़ा करके ओव्हरलोड़ परिवहन किया जा रहा है मसलन 6 चक्का की ट्रको को 250 बोरी धान का क्षमता की अनुमति मिली होती है किन्तु उसमें 400 से अधिक बोरी धान का परिवहन किया जा रहा है वही 10 चक्का मे जहा पर 400 बोरी धान का परिवहन की क्षमता जारी हुई है वहा पर 600 बोरी धान का परिवहन किया जा रहा है। इसके लिये धान खरीदी केन्द्रो के द्वारा जारी किया गया।

ट्रको का आवागमन निरंतर जारी

डीओ के जनरेट करते समय फर्जीवाड़ा किया गया है तथा 6 चक्का वाहन को 10 चक्का तथा 10 चक्का वाहन को डीओ में 12 चक्का का ट्रक बताया गया है। इस फर्जीवाड़ा के कारण से धान खरीदी केन्द्रो से ओव्हरलोड़ ट्रको का निरंतर आवागमन जारी है वही ट्रको से आया धान को पहले डंप करना है तथा उसके बार क्वालिटी चेक करने के बाद उसे स्टेक मे रखवाना संग्रहण केन्द्र के प्रभारी का कार्य है, इसके लिये प्रति बोरी पौने तीन रूपये का खर्च धान संग्रहण केन्द्र को मिला हुआ है।

 


Share
Bulletin