कवर्धाः150 शिक्षकों के स्थानांतरण से शिक्षा व्यवस्था बुरी तरह से प्रभावित

कवर्धाः150 शिक्षकों के स्थानांतरण से शिक्षा व्यवस्था बुरी तरह से प्रभावित

प्रदीप गुप्ता - प्रदेश सरकार द्वारा स्थानांतरण में छूट मिलने के बाद से कबीरधाम जिले में बडी संख्या में सभी विभागों में तबादले हो रहे हैं। इसका सबसे ज्यादा असर शिक्षा विभाग में देखने को मिल रहा है। जहां जिले से 150 शिक्षकों का ट्रांसफर हुआ है, लेकिन बाहर से मात्र 10 शिक्षक ही आये हैं। ऐसे में शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह से प्रभावित हो रही है। सबसे ज्यादा खराब स्थिति हाई स्कूल व हायर सेकेंडरी स्कूलों की है। बोर्ड परिक्षाओं के विद्यार्थियों का शिक्षकों के अभाव में अच्छे नंबर से पास होना मुश्किल होगा। यह पहली बार है जब इतनी संख्या में एक साथ शिक्षकों के तबादले हुए हैं। शिक्षा व्यवस्था प्रभावित न हो इसके लिए जिला प्रशासन अब राज्य सरकार के संज्ञान में लाने की बात कह रहे हैं।

शिक्षा विभाग अतिशीघ्र शिक्षकों को खाली हुए स्कूलों में अटैच करने की बात कह रहे

कबीरधाम जिले में शिक्षा विभाग में तबादले का दौर जारी है। प्राथमिक स्कूल से लेकर हायर सेंकेडरी स्कूल तक के लगभग 150 शिक्षकों ने अपना तबादला कराया है, लेकिन इसके बदले में मात्र 10 ही शिक्षकों का ही तबादला कवर्धा हुआ है। ऐसे में कई स्कूलों में मात्र एक ही शिक्षक बच गए हैं। जिले में शिक्षकों की कमी पहले से ही थी, अब 150 शिक्षकों के जाने से यह कमी और बढ़ गई है। शिक्षकों के जाने का सबसे ज्यादा असर बोर्ड परीक्षाओं के विद्यार्थियेां को होगा। बोर्ड कक्षाओं में 8वीं, 10वीं व 12वीं के विद्यार्थियों को अच्छे नंबर से पास करना मुश्किल होगा। 12वीं कक्षाओं में मैथ्स, साइंस, फिजिक्स जैसे विषयों के शिक्षक पहले से ही कम हैं। अब 150 शिक्षकों के जाने के बाद यह समस्या और अधिक हो चुकी है। इस मामले में शिक्षा विभाग व जिला प्रशासन भी परेशान है क्योंकि एक साथ इतने शिक्षकों का जाना विद्यार्थियों के लिए नुकसानदायक ही है। अब शिक्षा विभाग राज्य सरकार को मामले से अवगत कराने तथा अतिशीघ्र शिक्षकों को खाली हुए स्कूलों में अटैच करने की बात कह रहे हैं।


Share
Bulletin