पुराने विवाद में सगे भाई ने की थी भाई की हत्या, पुलिस ने किया खुलासा

पुराने विवाद में सगे भाई ने की थी भाई की हत्या, पुलिस ने किया खुलासा

बैतूल। भैंसदेही के खोमई के जंगल में महाराष्ट्र के कारंजा गांव के युवक की हत्या का पर्दाफाश पुलिस ने 48 घंटे में कर दिया है। युवक की हत्या उसी के भाई ने पत्थर से कुचलकर की थी।

दरअसल दोनों भाई के बीच 1 साल पहले हसिया मारने को लेकर हुए विवाद हुआ था,तभी से दोनों के बीच अनबन थी। पहले तो पत्थर मारकर बड़े भाई की हत्या की और बाद में अपने एक साथी के साथ मिलकर शव को खोमई के एक जंगल फेंक दिया पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस सब डिवीजन के एस डी ओ पी पीएस ठाकुर थाना प्रभारी विनय गहरवार ने बताया 5 जनवरी को खोमाई के गांव भंगी बंजारे के खेत में कारंजा निवासी दीपक पिता नारायण निरमडे 30 वर्ष का शव मिला था, उसका शव पत्थरों से कुचला हुआ था, परीक्षण के बाद पुलिस ने हत्या होने की आशंका से परिजनों सहित ग्रामीणों से पूछताछ की थी।

मृतक दीपक अपने घर से 1 जनवरी से लापता था, 2 जनवरी को परिजनों ने उसकी तलाश की उसका पता नहीं चलने पर 3 जनवरी को परिजनों ने महाराष्ट्र के शिरजगांव थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई 4 जनवरी की रात को खोमई में उसका शव मिला एस.डी.ओ.पी.पीएस ठाकुर ने बताया संभवत 1 जनवरी को ही छोटे भाई ने उसकी हत्या कर दी थी।

1 साल से चल रही थी अनबन...

एस.डी.ओ.पी.पीएस ठाकुर ने बताया मृतक दीपक झगड़ालू प्रवृत्ति का था, वह हमेशा अपने छोटे भाई शंकर से झगड़ा करता रहता था 1 साल पहले दीपक ने छोटे भाई शंकर को हसिया से मार दिया था तभी से दोनों के बीच अनबन चल रही थी। घटना की रात भी दोनों की बीच विवाद हुआ, इसी दौरान गुस्से में आकर पत्थर मारकर दीपक की हत्या कर दी इसके बाद गांव के विकास को घर से लेकर आया और शव को जंगल में फेंक दिया।

नए साल का जश्न मनाने अाए थे..

पुलिस ने बताया मृतक दीपक साले ब्रजेश और गुलाब के साथ नए साल का जश्न मनाने के लिए कोमल माई गांव आए थे, इस दौरान तीनों ने वहां शराब पी फिर दीपक और ब्रजेश, गुलाब को बाइक से गांव छोड़कर वापस आ गए , इसके बाद दीपक और ब्रजेश ने फिर शराब पी। शराब अधिक पीने के कारण दीपक को वहीं छोड़ दिया, इसके बाद छोटा भाई शंकर वहां आया और दीपक को पत्थर मार कर उसकी हत्या कर दी, हत्या करने के बाद दीपक का छोटा भाई अपने गांव वापस आ गया।पुलिस की कड़ी पूछताछ के बाद शंकर ने अपना जुर्म कबूल लिया है।


Share
Bulletin