सबकी मांगे मान लेंगे तो फिर प्रदेश की आर्थिक व्यवस्था ठप्प हो जाएगी - मंत्री डॉ. गोविंद सिंह

सबकी मांगे मान लेंगे तो फिर प्रदेश की आर्थिक व्यवस्था ठप्प हो जाएगी - मंत्री डॉ. गोविंद सिंह

दुर्गेश गुप्ता - प्रदेश में लगातार जारी हड़तालों के दौर को लेकर मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने कहा प्रजातंत्र में हड़ताल करने का अधिकार सभी को है। सरकार ने वादा किया था, पूरा करने के लिए भी हमारी सरकार प्रतिबद्ध है। सरकार पांच साल के लिए बनी है। यह वादा नहीं था कि 5 महीने में सब मांगे पूरी कर देंगे। साथ ही गोविन्द सिंह ने तत्कालीन सरकार के शासनकाल पर तजं कसते हुए कहा, हमें प्रदेश किस हाल में मिला है, यह सब जानते हैं। आज अगर सबकी मांगे मान लेंगे तो फिर प्रदेश की आर्थिक व्यवस्था ठप्प हो जाएगी। विकास कार्य रुक जाएगें, हम सभी कर्मचारियों से निवेदन करते हैं कि धैर्य रखें, सरकार किए गए सभी वादे पूरा करेगी।

भाजपा पर तंज कसते हुये कहा कि अच्छे काम का हमेशा विरोध ही करती है उनकी पार्टी

भोपाल को दो नगर निगमों में बांटने पर बीजेपी के द्वारा विरोध करने को लेकर मंत्री ने कहा, बीजेपी का काम विरोध करना है। बीजेपी पार्टी के लोग अच्छे काम का हमेशा विरोध करते हैं। यह चाहते हैं कि चित्त भी इनकी हो और पट्ट भी इनकी। लिहाजा सरकार को इससे फर्क नहीं पड़ता हम अपना काम करेंगे। महापौर और नगर पालिका अध्यक्ष के अप्रत्यक्ष चुनाव प्रणाली को लेकर कहा, जब पार्लियामेंट असेम्बली का चुनाव ऐसे होता है तो निगम चुनाव भी ऐसे होने में क्या परेशानी है। किसानों की कर्जमाफी को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया के बयान पर मंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि सरकार पहले प्रदेश में बाढ़ से प्रभावित किसान पीड़ितों की मदद करेगी। रही बात किसानों का कर्ज माफ करने की तो कर्ज माफी की प्रक्रिया चल रही थी। मगर तभी प्रदेश में बाढ़ आ गई तो पहले अब बाढ़ प्रभावितों की मदद की जाएगी।


Share
Bulletin