केवलारीः ग्रामीणों ने की वन मार्ग को प्रधानमंत्री सड़क योजना से जोड़ने की मांग

केवलारीः ग्रामीणों ने की वन मार्ग को प्रधानमंत्री सड़क योजना से जोड़ने की मांग

अदिल खान - विकास के तमाम दावों के बीच केवलारी विधानसभा के कुछ गांवों के लोग आज भी रोड जैसी मूलभूत आवश्यकताओं के लिए तरस रहे हैं। केवलारी जनपद की रतनपुर पंचायत के रतनपुर, पीपरदौन सहित आधा दर्जन ग्रामों के लोग शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार जैसी बुनियादी आवश्यकताओं के लिए 12 किलोमीटर का सफर तय कर बहुत ही दुर्गम और जर्जर वन मार्ग से छुई ग्राम आते हैं। दरअसल छुई सिवनी-मंडला राजकीय राजमार्ग के बिल्कुल मध्य स्थित है। जहां शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाएं होने के साथ-साथ यहां से इन ग्रामवासियों के लिए केवलारी तहसील व सिवनी जिला मुख्यालय की दूरी महज 25 किलोमीटर है। ग्रामीणों की मांग है कि 12 किलोमीटर लंबे पीपरदौन-छुई वन मार्ग को प्रधानमंत्री सड़क योजना से जोड़ा जाए।

कलेक्टर ने दिया शीघ्र रोड बनवाने का आश्वासन

यह ग्राम वर्तमान में केवलारी तहसील के उगली से प्रधानमंत्री सड़क योजना से जुड़े हुए हैं किंतु उगली की दूरी 30 किलोमीटर होने से ग्रामीण इस मार्ग का उपयोग नहीं करते। उगली होते हुए केवलारी तहसील मुख्यालय जाने के लिए ग्रामीणों को 60 किलोमीटर का सफर तय करना पड़ता है। वहीं जिला मुख्यालय जाने के लिए 100 किलोमीटर का सफर तय करना पड़ता है। जबकि पीपरदौन- छुई वन मार्ग का उपयोग कर आधे से भी कम दूरी में केवलारी और सिवनी पहुंचा जा सकता है। ग्रामीणों की इस मांग पर सिवनी जिला कलेक्टर प्रवीण सिंह अढायच ने वन विभाग से चर्चा कर तमाम अड़चनों को दूर कर शीघ्र रोड बनवाने का आश्वासन दिया है


Share
Bulletin