सिद्ध बाबा की पहाड़ी पर बसे अतिक्रमणों को हटायेगा जिला प्रशासन

सिद्ध बाबा की पहाड़ी पर बसे अतिक्रमणों को हटायेगा जिला प्रशासन

अरविंद दुबे : जबलपुर में जिला प्रशासन ने सिद्ध बाबा की पहाड़ी पर बसे अतिक्रमणों को हटाने की कार्यवाही शुरू की है। इस पहाड़ी पर करीब 7 हजार परिवार निवास कर रहे हैं जिन्हें अब जल्द ही यहां से हटना होगा। हाईकोर्ट के निर्देश पर जिस प्रकार मदन महल पहाड़ी से अतिक्रमणकारियों को खदेड़ा गया था वैसे ही अब सिद्ध बाबा की पहाड़ी से भी हटाया जा रहा है। पहाड़ी पर रहने वाले हजारों परिवारों ने इसका विरोध करते हुए प्रदर्शन किया। 

राजनैतिक दलों के नेताओं ने लोगों को दिया आश्वासन
उनका कहना है कि वे कई दशकों से यहां रह रहे हैं, उनके पूर्वजों ने यहां पर अपना जीवन गुजारा और विरासत में उन्हें यह जगह दी, नगर निगम और जिला प्रशासन द्वारा भी उन्हें सड़क, बिजली, पानी सहित तमाम मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराई गईं। अचानक में उन्हें हटाने का आदेश आया जिससे सभी दहशत में हैं। प्रदर्शन के दौरान विभिन्न राजनैतिक दलों के नेता भी पहुंच गए और लोगों को आश्वासन दिया कि किसी को भी बेघर नहीं होने दिया जाएगा लेकिन हाईकोर्ट के निर्देश का पालन करना भी आवश्यक है। 

2 हजार परिवारों को हटाकर जमीन आवंटित
गौरतलब है कि हाईकोर्ट के निर्देश पर मदन महल पहाड़ी से करीब 2 हजार परिवारों को हटाकर तिलहरी में जमीन आवंटित कर बसाया गया है। पहाड़ियों से अतिक्रमण हटाने का मकसद पहाड़ियों को संरक्षित करना और पर्यटन के लिहाज से विकास कार्य कराना है। बहरहाल सिद्धबाबा पहाड़ी पर रहने वालों ने चेतावनी दी है कि यदि उन्हें यहां से हटाया जाता है तो आने वाले समय में वे आमरण अनशन तक करने को तैयार हैं।


Share
Bulletin