इंदौरः बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बुजुर्गों और दिव्यांग बच्चों के साथ मनाया रक्षाबंधन का त्यौहार

इंदौरः बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बुजुर्गों और दिव्यांग बच्चों के साथ मनाया रक्षाबंधन का त्यौहार

दीपिका अग्रवाल- इंदौर में बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने रक्षाबंधन का त्यौहार तीन दिन पूर्व अनोखे ढ़ंग से मनाया। उन्होंने वृद्धाश्रम पहुंचकर बुजुर्गों और दिव्यांग बच्चों के साथ रक्षाबंधन की खुशियां बिखेरीं। इस मौके पर कैलाश विजयवर्गीय ने बच्चों के साथ अंताक्षरी भी खेली और गाने भी गाए। इस दौरान वे अपने आपको रोक नहीं पाए और उन्होंने बुजुर्गों और दिव्यांग बच्चों के साथ जमकर डांस किया। जिससे पूरा माहौल ही खुशनुमा बन गया। उन्होंने कहा कि वृद्धाश्रम में त्यौहार मनाने का उनका मकसद उन लोगों को परिवार जैसा एहसास कराना है, जिनका परिवार नहीं है।

विजयवर्गीय ने कहा इनके साथ त्यौहार की अनुभूति उनके लिए सबसे अलग

सबसे पहले पहुंचकर कैलाश विजयवर्गीय ने विभिन्न संस्थाओं के दिव्यांग बच्चों के साथ अंताक्षरी खेली। यहां पर उन्होंने बॉलीवुड के पुराने सॉन्ग से लेकर देशभक्ति गीत और भजन भी गाए। वहीं बच्चों के सामने उन्होंने अंताक्षरी में अपनी हार भी मानी। देश भक्ति गाना गाते हुए विजयवर्गीय खुद भी बच्चों के साथ थिरके। इसके बाद उन्होंने इन्हीं छोटी बच्चियों से राखी भी बंधवाई और उन्हें उपहार भी दिए। कार्यक्रम के बाद विजयवर्गीय ने कहा कि वे 38 सालों से यहां पर त्यौहार मनाने के लिए आते हैं और इस त्यौहार की अनुभूति उनके लिए सबसे अलग होती है। कांग्रेस के ज्योतिरादित्य सिंधिया की बीजेपी में आने की सुगबुगाहट पर उन्होंने कहा कि यह फैसला पार्टी के आला हाईकमान को तय करना है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट्स के माध्यम से वे लगातार सुन रहे हैं सिंधिया को बीजेपी में आना है, लेकिन इस पर सटीक जानकारी ना होने से कुछ भी टिप्पणी नहीं करेंगे। वहीं पीओके को लेकर विजयवर्गीय ने कहा कि पाकिस्तान ऑक्युपाईड कश्मीर के कई लोग लापता हो चुके हैं। वहां की महिलाएं गायब हो रही हैं। उन पर अत्याचार हो रहा है और जब हम जम्मू कश्मीर की बात करते हैं तो उसमें पीओके और सियाचिन दोनों शामिल होते हैं।


Share
Bulletin