एक दिन की मासूम वेंटीलेटर पर सांसों के लिए लड़ रही लड़ाई, चाकूओं के कई घाव मिले शरीर पर

एक दिन की मासूम वेंटीलेटर पर सांसों के लिए लड़ रही लड़ाई, चाकूओं के कई घाव मिले शरीर पर

इंदौर: आज एक ऐसा मामला सामने आया हैं जिसे देखकर इंसान को जानवर कह दिया जाए तो कोई गुरेज नहीं हैं। इस मामले में एक दिन की मासूम एमवाय अस्पताल में वेंटीलेटर पर सांसों के लिए लड़ाई कर रही हैं। डॉक्टरों ने बताया कि उसके शरीर पर चाकू के कई घाव थे और यह उसे कैसे हुए, उसे किसने मारा, उसके साथ क्या हुआ इस बारे में कोई कुछ नहीं जानता यहाँ तक कि उसके माता-पिता भी इस बारे में नहीं जानते हैं। बच्ची के माता-पिता का कहना हैं बच्ची के शरीर पर घाव अपने-आप ही हो गए हैं।

परिजन बच्ची को घायल हालत में लेकर पहुंचे अस्पताल

डॉक्टरों का कहना है कि चाकू या किसी शार्प ऑब्जेक्ट से बच्ची पर वार किए गए। उस नवजात बच्ची को बुधवार शाम को शाजापुर के जिला अस्पताल से इंदौर के एमवायएच रैफर किया गया था और जब डॉक्टरों ने बच्ची के घाव को देखा तो उनके भी होश उड़ गए। उसके बाद डॉक्टरों ने उसी समय पुलिस को सूचना दी। वहीं खबर हैं कि नवजात के माता-पिता आगर जिले के रहने वाले हैं और यह उनकी दूसरी बेटी है। इस मामले में शाजापुर जिला अस्पताल के डॉ.चेतन वर्मा का कहना है कि परिजन बच्ची को घायल हालत में हमारे पास लाए थे। वहीं उनसे कई बार पूछा गया कि घाव कैसे हो गए, लेकिन वह यही कहते रहे कि अपने आप हो या। इस मामले में एमवायएच के पीडियाट्रिक प्रमुख डॉ। ब्रजेश लाहोटी ने बताया कि 'बच्ची वेंटीलेटर पर है, हालत स्थिर है। उस पर चाकू या किसी शार्प ऑब्जेक्ट से वार किया गया है। उसे गर्दन, छाती व पेट पर घाव थे। ऑपरेशन कर आंत का एक हिस्सा निकाला, जो अंदर तक फट गया था।'


Share
Bulletin