पिता की हत्या का बदला लेने के लिए बेटे ने किया 12 महीने का इतंजार, पिता के हत्यारे को उतारा मौत के घाट

पिता की हत्या का बदला लेने के लिए बेटे ने किया 12 महीने का इतंजार, पिता के हत्यारे को उतारा मौत के घाट

मनोज अंबास्था : पिता की हत्या का बदला लेने के लिए एक दो नहीं बल्कि पूरे 12 महिने तक इंतजार किया, दुश्मनी के बीज तो पहले ही पड़ चुके थे बस इंतजार था सही वक्त का। सही वक्त भी पूरे एक साल बाद मिला और आरोपी ने अपने पिता के हत्यारे को मौत के घाट उतार कर खुद पुलिस थाने में आत्मसमर्पण कर दिया। 

8 नवम्बर 2017 को अपने पिता की हत्या का बदला उसके बेटे ने आज 8 नवम्बर 2018 को बड़ी खौफनाक तरीके से लिया । बकरी चराने जंगल की ओर गए अधेड़ राहुल रजक का पीछा करते हुए सुनसान जगह पर  निशांत उर्फ मोटू ने धारदार हथियार से गला काटकर मौत के घाट उतार दिया । घटना शहर के बरटोली मुहल्ले की है इस खबर से सनसनी फैल गई है।

ग्रामीणों से जो जानकारी मिल रही है उसके अनुसार एक साल पहले निशांत नायक के पिता शराब पीने राहुल के घर गए थे जहां विवाद होने लगा और निशांत के पिता के द्वारा गाली - गलौच करने से नाराज होकर राहुल रजक ने कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या कर दी । जिसको लेकर निशांत नायक  अपने पिता की हत्या का बदला लेने की ताक में रहने लगा । जेल से राहुल के निकलने के बाद आज 8 नवम्बर को नहर किनारे बकरी चरा रहे राहुल रजक की बलवा से गर्दन काटकर हत्या कर दी। कोतवाली पुलिस की टीम मौके पर पहुंच कर जाँच में जुट गई  है वहीं आरोपी युवक पुलिस थाने में आत्मसमर्पण कर दिया है लेकिन पुलिस सुरक्षा कारणों को लेकर आरोपी को सामने नहीं ला रही।


Share
Bulletin